MD ISHTIYAK ALAM

MD ISHTIYAK ALAM

  • Latest Stories

"दीपों से रोशन आपका जहान हो, न कर तकदीर का शिकवा मुकद्दर आजमाता जा मिलेगी खुद-ब-खुद मंजिल कदम आगे बढ़ाता जा"

दीपों से रोशन आपका जहान हो, न कर तकदीर का शिकवा मुकद्दर आजमाता जा मिलेगी खुद-ब-खुद मंजिल कदम आगे बढ़ाता जा

 

22 Love

"ख़ामोशी को समझना सीख लो, क्यूंकि अपनी खामोशी को समझना जान जाओ जो खामोशी लिए रखते हैं हमेशा वही शख्स कामयाब होते हैं आरजू है मनाते हैं पर सफल कोई नहीं है जो सफल है प्यार में उसे अल्लाह ईश्वर भगवान ने तराशा"

ख़ामोशी को समझना सीख लो, क्यूंकि अपनी खामोशी को समझना जान जाओ जो खामोशी लिए रखते हैं हमेशा वही शख्स कामयाब होते हैं आरजू है मनाते हैं पर सफल कोई नहीं है जो सफल है प्यार में उसे अल्लाह ईश्वर भगवान ने तराशा

 

16 Love

"किस्मत वाले मेरी किस्मत ही ऐसी टूटी मेरी किस्मत ही ऐसी टूटी कि तू मुझसे जुदा हो गई पर काश तुम अगर मिल जाते समय में एक शमा पास जाता सब कुछ तुम ही हो यारों यह दुआ है हसरतों से काश मिल जाओ आज गले से फिर यह दिन न मिलेगा फिर दोबारा"

किस्मत वाले मेरी किस्मत ही ऐसी टूटी मेरी किस्मत ही ऐसी टूटी कि तू मुझसे जुदा हो गई पर काश तुम अगर मिल जाते समय में एक शमा पास जाता सब कुछ तुम ही हो यारों यह दुआ है हसरतों से काश मिल जाओ आज गले से फिर यह दिन न मिलेगा फिर दोबारा

 

16 Love

"मैं अपनी तकदीर क्या लिखूं मैं तो एक फसाना बन चुका हूं यारो दुआ करो कि उनसे ना नजर मिले हमारा यह हसरत थी उनको देखने का पर अब देख ना सका मरते दम तक"

मैं अपनी तकदीर क्या लिखूं मैं तो एक फसाना बन चुका हूं यारो दुआ करो कि उनसे ना नजर मिले हमारा यह हसरत थी उनको देखने का पर अब देख ना सका मरते दम तक

#Pehlealfaaz

11 Love