Govind Pandram

Govind Pandram Lives in Betul, Madhya Pradesh, India

"कुछ अनकहे अल्फाज़"

  • Popular
  • Latest
  • Repost
  • Video

""

"मैं कहने ही वाला था, पर वो दीदार-इ-यार की तमन्ना को मचल बैठे, बहकने ही वाले थे कि फिर संभल बैठे, मैं कहने ही वाला था, दास्तान ए जिन्दगी उनसे.. पर वो आये करीब तो अरमान भी निकल बैठे!!"

मैं कहने ही वाला था, पर वो दीदार-इ-यार की तमन्ना को मचल बैठे, 
बहकने ही वाले थे कि फिर संभल बैठे, 
मैं कहने ही वाला था, दास्तान ए जिन्दगी उनसे.. 
पर वो आये करीब तो अरमान भी निकल बैठे!!

#Adhuri_baat

165 Love
1 Share

""

"छोटे से जहाँ में, छोटी सी बस्ती मेरी, भीषण 'बाढ़' में छोटी सी कस्ती मेरी, हे! भगवान कुछ तो मुझ पर दया कर.. तेज लहरों में मिट न जाये हस्ती मेरी। .....गोविन्द पन्द्राम"

छोटे से जहाँ में, छोटी सी बस्ती मेरी,  
भीषण 'बाढ़' में छोटी सी कस्ती मेरी,  
हे! भगवान कुछ तो मुझ पर दया कर.. 
तेज लहरों में मिट न जाये हस्ती मेरी।

          .....गोविन्द पन्द्राम

#flood = बाढ़

162 Love
1 Share

""

"बेक़रार हूँ मुझे और बेकरार ना कर, छुप-छुपकर मुझसे यूँ प्यार ना कर.. लोग क्या कहेंगे, इस बात से ना डर, अगर है इश्क़ तो खुलके इजहार कर.. चाँद छिप गया आसमां में तारो संग, सितारे निकलने का इंतजार ना कर.. दिल बेकरार है सुनने को देर ना कर, अगर है इश्क़ तो खुलके इजहार कर.. गोविन्द पन्द्राम"

बेक़रार हूँ मुझे और बेकरार ना कर,  
छुप-छुपकर मुझसे यूँ प्यार ना कर.. 

लोग क्या कहेंगे, इस बात से ना डर,  
अगर है इश्क़ तो खुलके इजहार कर.. 

चाँद छिप गया आसमां में तारो संग,  
सितारे निकलने का इंतजार ना कर.. 

दिल बेकरार है सुनने को देर ना कर,  
अगर है इश्क़ तो खुलके इजहार कर.. 

गोविन्द पन्द्राम

#MoonHiding

161 Love

""

"खुद को तनहा छोड़ा है, तो सिर्फ तेरे लिए नाता इश्क़ का जोड़ा है, तो सिर्फ तेरे लिए। तुमको देखा तो, रोक नहीं पाया खुद को.. इन कदमो को मोड़ा है, तो सिर्फ तेरे लिए। वादा ना तोडूँगा,खुद से ये वादा था.. मैंने वादा तोड़ा है, तो सिर्फ तेरे लिए। बिन तेरे मर ही जायेगा, ये "गोविन्द"अब.. चादर इश्क़ का ओड़ा है, तो सिर्फ तेरे लिए। गोविन्द पन्द्राम"

खुद को तनहा छोड़ा है,  
तो सिर्फ तेरे लिए 
नाता इश्क़ का जोड़ा है, 
तो सिर्फ तेरे लिए। 
तुमको देखा तो, रोक 
नहीं पाया खुद को.. 
इन कदमो को मोड़ा है, 
तो सिर्फ तेरे लिए। 
वादा ना तोडूँगा,खुद से 
ये वादा था..
मैंने वादा तोड़ा है, 
तो सिर्फ तेरे लिए। 
बिन तेरे मर ही जायेगा, 
ये "गोविन्द"अब..
चादर इश्क़ का ओड़ा है,  
तो सिर्फ तेरे लिए। 
      गोविन्द पन्द्राम

#leftalone

160 Love

""

"फूलों सी नाजुक, तितलियो की पर है बेटियाँ.. लहरों सी शीतल, पावन समंदर है बेटियाँ... घर की रौनक, पिता की दौलत है बेटियाँ... चाँद तारों से, सजी हुई अंबर है बेटियाँ... ©Govind Pandram"

फूलों सी नाजुक, 
तितलियो की पर है बेटियाँ..

लहरों सी शीतल, 
पावन समंदर है बेटियाँ... 

घर की रौनक, 
पिता की दौलत है बेटियाँ...

चाँद तारों से,  
सजी हुई अंबर है बेटियाँ...

©Govind Pandram

#HappyDaughtersDay2020

160 Love