mariyamjariwala

mariyamjariwala Lives in Indore, Madhya Pradesh, India

my pen potraits my personality.

  • Popular Stories
  • Latest Stories

" "

follow what your heart says not society.#Quotes

22 Love

" "

#Quotes

17 Love

" "

#Poetry ए जालिमों तुम लोगो ने ये क्या कर डाला
उस मासूम सी जान को दबोच डाला
उस घर के जलते दीये को
बुझा डाला
उस मासूम सी जान की दर्द भरी
अहा...सुनकर तुम लोगो को तकलीफ नही हुई
शायद,तुम लोगो को अल्लाह का खौफ़ नही
इसलिए,तुम लोगो ने उसे नोच डाला
जिसकी खेलने की उम्र थी
तुम लोगो ने उसे ही खिलौना बना डाला
वो मासूम,
बहुत से सपने सजाये बैठी होगी
तुमने उसके साथ उसके सपने को भी दफन कर डाला

ए जालिमो थोड़ी तो शर्म करते
वो एक बच्ची थी (2★)

उसकी मसुमियात देख तुम लोगो को तरस नही आई
वो एक नाज़ुक सी कली थी
जिसको खेलने से पहेले ही तुमने खत्म कर डाला

यहाँ पर जरा गौर फरमाइयेगा
लोग कहते है बच्चे भगवान का रूप होते हैं
तुम लोगो ने उस भगवान की भी लाज न रखी
तुम लोगो ने उस भगवान के घर को भी अपवित्र कर डाला
तुम लोगो ने उस मासूम के हस्ते खेलते परिवार को उजाड़ डाला
तुम लोगो ने उस मासूम के माँ बाप को बेऔलाद करदला

ए जालिमो ये तुम लोगो ने ये क्या कर डाला

जरा खयाल तो करो
जिसकी बाप के कंधे पर बैठने की उम्र थी
उस बाप ने जनाज़े को कंधा कैसे दिया होगा
जिसकी सजने सँवरने की उम्र थी
उसे कफन के कपड़े में कैसे लिपटा होगा
ए जालिमो तुम लोगो ने ये क्या कर डाला

जरा खयाल तो करो
अब उसकी अम्मी को अम्मी कहकर कोंन पुकारेगा
अब उसके अब्बा को अब्बा कहकर कौन पुकारेगा
अब उसके भाई को भाई जान केहकर कोन पुकारेगा

दूसरे के बच्चों को देख
उन्हें अपनी आसिफा की याद सताएगी
हर एक पल
हर एक लम्हा
उसकी मस्ती
उसकी नौटंकियों की याद दिलाएगा
ए जालिमो ये तुम लोगो ने क्या करदला

वो अपना दर्द किसी से बया ना कर सकी
लेकिन,अल्लाह को अपनी दर्द भारी कहानी बयां करेगी
सब्र रख!भरोसा रख
फैसला करेगा वो तेरे हक में(2★)

तेरी हर एक चीख
तेरे हर एक आँसूं
तेरे हर एक अहा का
इंसाफ करेगा,ज़रूर करेगा©

14 Love

" "

#Art .

11 Love

" "

Quotes

8 Love