kavirA

kavirA Lives in Mandla, Madhya Pradesh, India

1---teacher 2---writer...... poem, sayri, gazal, hindisongs, story , thought, cotion etc. 3--- bussinessman 4---socialworker 5---farmer

  • Popular Stories
  • Latest Stories

"हिंदी दिवस ये उन दिनों कि बात हैं ज़ब हम कक्षा 5 कि हिंदी विषय पड़ रहे थे, पता नहीं क्या बात थी मेरी हिंदी वाली मैडम मे, उम्र थी 9 कि फिर भी धीरे धीरे आंख लड़ रहे थे! 😍😍😍😍"

हिंदी दिवस  ये उन दिनों कि बात हैं ज़ब  हम कक्षा 5 कि हिंदी  विषय  पड़ रहे थे, 
पता नहीं क्या  बात थी मेरी हिंदी वाली मैडम मे, उम्र थी 9 कि फिर भी धीरे धीरे आंख लड़ रहे थे! 
😍😍😍😍

#मेरी बचपन वाली class #कक्षा 5...

41 Love
1 Share

"आज-कल आज तेरा हैं, कल मेरा आएगा ! समय बदल रहा हैं, शाम के बाद सबेरा आएगा !! क्या लेकर आया हैं, क्या लेकर जाएगा ! मिट्ठी का पुतला हैं, मिट्ठी मे ही मिल जाएगा !! 😶😶😶😶 -kavirA"

आज-कल आज तेरा हैं, 
                             कल मेरा आएगा !
       समय बदल रहा हैं, 
                                        शाम के बाद सबेरा आएगा !!


          क्या लेकर आया हैं, 
                        क्या  लेकर जाएगा !
      मिट्ठी का पुतला हैं, 
                             मिट्ठी मे ही मिल जाएगा !!
   😶😶😶😶


       -kavirA

#truththought..... @Abid Ali

38 Love
3 Share

"मेरा मन मेरा मन इतना दीवाना, मस्ताना नहीं हैं, अब तो झूठ बोलना बंद कर तेरे पास कोई और बहाना नहीं हैं !! 🤭🤭🤭🤭🤭"

मेरा मन मेरा मन इतना दीवाना, मस्ताना  नहीं हैं, 
 अब तो झूठ बोलना बंद कर तेरे पास कोई और बहाना नहीं हैं !!
🤭🤭🤭🤭🤭

#love😘😘😘

38 Love
1 Share

"मौसम रंगीन और मिजाज बदला -बदला हैं - जनाब, ये आशिकी का भूत पहला -पहला हैं -जनाब !! अरे - सभी कदरदानों से लड़कर रंज दिलाएंगे, आकर मिलये तो सही आप को भी सब से मिलवाएंगे !! नजर लगी हुई है मेरी सारे जहांन को, उन्ही बरसते बूंदो से काजल लगवाएंगे अपनी जान को !! इस आसमा मे परिंदे बहुत हैं संभल कर उड़ा करो, इश्क के दीवाने बुसुमार हैं हमारे जरा देख के लड़ा करो !! इतना सस्ता नहीं है इश्क़ मेरा कीमत बयाँ नहीं कर सकते, मोती पंखड़ियों मे पाया जाता हैं यूं पानी मे नहीं बहा करते !!"

मौसम रंगीन और मिजाज बदला -बदला हैं  - जनाब, 
ये आशिकी  का  भूत  पहला -पहला हैं -जनाब !!

अरे - सभी कदरदानों से लड़कर रंज दिलाएंगे, 
आकर मिलये तो सही आप को भी सब से मिलवाएंगे !!

नजर लगी हुई है मेरी सारे जहांन को, 
उन्ही बरसते बूंदो से काजल लगवाएंगे  अपनी जान को !!

इस आसमा  मे परिंदे बहुत हैं संभल  कर उड़ा करो,  
इश्क के दीवाने बुसुमार हैं हमारे  जरा देख के लड़ा करो !!

इतना सस्ता नहीं है इश्क़ मेरा कीमत बयाँ नहीं कर सकते, 
मोती  पंखड़ियों  मे पाया जाता हैं यूं  पानी मे नहीं बहा करते !!

#MeraShehar

37 Love
2 Share

"सूखे फूल सिनसिला यूँ शुरू हुआ था कि मे, सब कुछ भूल गया था ! खुश्बू अभी भी बची थी, उन सूखे फूलों मे जिनका मोल नहीं था !! उसका एक कतरा रुखा ना गया, वो वही हैं जिसका फूल सूखा ना गया !! 😘😘😘"

सूखे फूल सिनसिला यूँ शुरू  हुआ था कि मे, 
सब कुछ भूल गया था !
खुश्बू  अभी भी बची थी, 
उन सूखे फूलों  मे जिनका मोल नहीं था !!


उसका एक कतरा  रुखा ना गया, 
वो वही हैं  जिसका फूल सूखा ना गया !!

😘😘😘

#love😘😘😘

36 Love
1 Share