Mr. Bolbachan

Mr. Bolbachan Lives in Ludhiana, Punjab, India

www.instgram.com/mrbolbachan

  • Popular Stories
  • Latest Stories

"शहर की हवा लगी , लोग नवाब हो चले इंतज़ार करती रही माएँ, बच्चे ख़्वाब हो चले उम्र बढ़ी जब से, माँ भी इन्हें समझ नहीं पाती बच्चे जैसे खुद अंग्रेजी की किताब हो चले दूध पिला जिन को मीठा बोलना सिखाया वही बच्चे आज जैसे तीखा तेज़ाब हो चले चंद सिक्कों में कभी माँ ने इनको पाला पोसा पत्नी आई, तो अब खर्चे बेहिसाब हो चले नए जमाने का मोबाइल आगे ले आया हमें पुराने दौर के रेडियो अब खराब हो चले ©mrbolbachan"

शहर  की  हवा  लगी  , लोग   नवाब   हो  चले
इंतज़ार करती  रही माएँ, बच्चे  ख़्वाब  हो चले

उम्र बढ़ी  जब से, माँ भी इन्हें समझ नहीं पाती
बच्चे  जैसे  खुद  अंग्रेजी   की  किताब हो चले

दूध  पिला  जिन  को  मीठा  बोलना  सिखाया
वही  बच्चे  आज  जैसे  तीखा  तेज़ाब हो चले

चंद सिक्कों में कभी माँ ने  इनको पाला पोसा
पत्नी आई, तो  अब  खर्चे   बेहिसाब  हो चले

नए  जमाने का  मोबाइल  आगे ले आया हमें 
पुराने  दौर के  रेडियो  अब   खराब  हो  चले
©mrbolbachan

समय बदलता है। लेकिन कुछ बदलाव सुखद नहीं होते।
#Nojoto #HindiPoetry #HindiShayari #ghazal #Shayari #Hindi #Mrbolbachan

189 Love
14 Share

"संग  तन्हाई   भी गा रही  होगी फिर वो तकिया भीगा रही  होगी नंगे पाँव चलने की आदत  डाली काँटों से  घूँघट सजा रही  होगी सपनों में  मिलने का वादा किया थपकी दे खुद को सुला रही होगी लाली चेहरे पर आई अब मेरे मेहंदी हाथों में  लगा रही होगी होंठ पर शराब था हमने नहीं चखा पता नहीं किसको पिला रही होगी   खत   तो जल   ही गए होंगे राख   सीने  से लगा  रही होगी"

संग  तन्हाई   भी  गा रही  होगी
 फिर वो तकिया भीगा रही  होगी 

नंगे पाँव चलने की आदत  डाली 
काँटों से  घूँघट सजा रही  होगी

सपनों में  मिलने का वादा किया 
थपकी दे खुद को सुला रही होगी

लाली  चेहरे  पर  आई  अब  मेरे  
मेहंदी  हाथों  में  लगा रही होगी

होंठ पर शराब था हमने नहीं चखा 
पता नहीं किसको पिला रही होगी  

खत   तो  जल   ही    गए   होंगे
राख   सीने  से लगा  रही होगी

फिर कुछ नया लेकिन पुराना लाया हूँ। लिखने का खयाल कुमार विश्वास जी की कविता सुनने के बाद आया। उम्मीद है मेरी ये कोशिश पसंद आएगी।
#Nojoto
#nojotohindi #hindipoetry #Shayari #Shayari #Mrbolbachan

185 Love
13 Share

"पास नहीं आती झिझक जाती है हर दफा ऐ किस्मत क्या आजतक है मुझसे खफ़ा"

पास नहीं आती झिझक जाती है हर दफा
ऐ किस्मत क्या  आजतक है मुझसे खफ़ा

#Nojoto #NojotoHindi #hindipoetry #hindishayari #twoliner #Love #luck #Mrbolbachan

170 Love
14 Share

"टूटा  दिल फिर  भी खत जलाना  ठीक ना समझा ऐ मोहब्बत उसके घर आना जाना ठीक ना समझा दर्द  का मंजर   भी हमने धूमधाम  से है अब मनाया खूब  रोया,  पर जमाने  से छुपाना  ठीक ना समझा उसने  धोखा दिया  तो क्या हमने तो मोहब्बत की महफ़िल  में उस पर शायरी सुनाना ठीक ना समझा कितना  दर्द है  सिवाय तकिया   कौन जानता है पर  उसे भी  अब सीने से लगाना  ठीक ना समझा अब   कुछ दिन   से सुकून की  नींद आती हैं उम्मीद  में इस दिल को जगाना ठीक ना समझा माँ के संस्कारों  ने बिगड़ने से बचा   लिया हमको औरों जैसे जाम  होंठ पर लगाना ठीक ना समझा"

टूटा  दिल  फिर  भी खत  जलाना  ठीक  ना  समझा 
ऐ  मोहब्बत  उसके  घर आना जाना ठीक ना समझा

दर्द  का मंजर   भी हमने  धूमधाम  से है अब मनाया 
खूब  रोया,  पर  जमाने  से  छुपाना  ठीक ना समझा

उसने  धोखा दिया  तो  क्या  हमने  तो  मोहब्बत की 
महफ़िल  में उस पर शायरी  सुनाना  ठीक ना समझा

कितना  दर्द  है  सिवाय  तकिया   कौन   जानता  है
पर  उसे  भी  अब  सीने से  लगाना  ठीक ना समझा

अब    कुछ   दिन   से  सुकून   की   नींद   आती  हैं
उम्मीद  में  इस  दिल  को जगाना  ठीक  ना  समझा

माँ  के  संस्कारों  ने  बिगड़ने  से  बचा   लिया हमको
औरों जैसे जाम  होंठ  पर  लगाना  ठीक  ना  समझा

दरअसल 12 पंक्तियों की ग़ज़ल है। इस लिए इसे दो भागों में पेश कर रहा हूँ। पूरी रचना मोहब्बत पर ही आधारित है। बाकी भाग कल पेश करूँगा।
#Nojoto #NojotoHindi #hindipoetry #hindipoetry #Shayari #gazal #Mrbolbachan #hindishayari

167 Love
8 Share

"कभी चिराग़ों को लेकर भी मंज़िल की ओर बढ़ना सीखो ये चाँद हर रात तुम्हें रास्ता दिखाने नहीं आएगा"

कभी चिराग़ों को लेकर भी मंज़िल की ओर बढ़ना सीखो ये चाँद हर रात तुम्हें रास्ता दिखाने नहीं आएगा

#Mrbolbachan #Nojoto #nojotohindi #hindipoetry #hindithoughts #Thoughts #Quote #Motivation

147 Love
1 Share