Sachin Joshi

Sachin Joshi Lives in Chandigarh, Punjab, India

Dreamer, Believe, Punjabi, High on Life, Travel

  • Latest Stories

बेहतरीन दिनों के लिए,
बुरे दिनों से लड़ना पड़ता है।

104 Love
4 Share

वे लोग भाग्यशाली है, जो यह समझ चुके है कि उन्हें व्यक्तियों
से प्रेम करना है और वस्तुओं का उपयोग करना है।

87 Love
2 Share

साथ नहीं रहने से रिश्ते टूटा नहीं करते,
वक़्त की धुंध से लम्हें टूटा नहीं करते,
लोग कहते हे मेरा सपना टूट गया,
टूटती नींद है सपने टुटा नहीं करते !

217 Love
4 Share

"बन सहारा बे सहारों के लिए, बन किनारा बे किनारों के लिए. जो जिए अपने लिए तो क्या जिए, जी सको तो जिओ हजारों के लिए."

बन सहारा बे सहारों के लिए, 
बन किनारा बे किनारों के लिए.
जो जिए अपने लिए तो क्या जिए, 
जी सको तो जिओ हजारों के लिए.

बन सहारा बे सहारों के लिए, बन किनारा बे किनारों के लिए. जो जिए अपने लिए तो क्या जिए, जी सको तो जिओ हजारों के लिए.

202 Love
1 Share

 

225 Love
2 Share