Ranbir Ranjan

Ranbir Ranjan

आशिक़ी शायरी

  • Latest Stories

#आशिक़ी हो कि #बंदगी ‘फ़ाख़िर’,
बे-दिली से तो #इब्तिदा न करो !!
देने वाले ने उन को #हुस्न दिया
और अता मुझ को आशिकी कर दी …

222 Love
2 Share

#आशिकी सब्र तलब और #तमन्ना #बेताब‌
#दिल का क्या #रंग करूं खून‍-ए-जिगर होने तक

#ग़ालिब

200 Love
3 Share