Dr SONI

Dr SONI Lives in Muzaffarpur, Bihar, India

Mei likhna nahi janti waqt ne sikha diya

  • Latest
  • Popular
  • Video

गिरधर कहूं मैं कृष्ण कहूं, प्रभु किस विधि तुम्हें मनाऊं, कभी वृंदावन कभी मथुरा की गली, कान्हा को कैसे रिझाऊं l जो तुम तोड़ो प्रभु मैं ना तोडूं प्रीत की डोर तुम्हरे संग जोडूं, तुम सागर मैं नदी की धारा, चहुंओर बस तुमको खोजूं l मन मंदिर में तुम्हें बसा लूँ, स्नेह की बाती का दिया जला लूँ, तुम ठाकुर मैं तुम्हरी दासी, हर श्वास तुम पर लुटा दूँ l इक दरस की प्यास बुझा लूँ, चरण धूलि की तिलक लगा लूँ, नटवर नागर मेरे गोविंदा, कृष्णमय जीवन को कर लूँ l ©Dr SONI

#Krishna #Sea  गिरधर कहूं मैं कृष्ण कहूं, 
प्रभु किस विधि तुम्हें मनाऊं, 
कभी वृंदावन कभी मथुरा की गली, 
कान्हा को  कैसे रिझाऊं l

 जो तुम तोड़ो प्रभु मैं ना तोडूं
प्रीत की डोर तुम्हरे संग जोडूं, 
तुम सागर मैं नदी की धारा, 
चहुंओर बस तुमको खोजूं l

मन मंदिर में तुम्हें बसा लूँ, 
स्नेह की बाती का दिया जला लूँ, 
तुम ठाकुर मैं तुम्हरी दासी, 
 हर श्वास तुम पर लुटा दूँ l

 इक दरस की प्यास बुझा लूँ, 
चरण धूलि की तिलक लगा लूँ, 
 नटवर नागर मेरे गोविंदा, 
कृष्णमय जीवन को कर लूँ l

©Dr SONI

#Krishna #Sea

22 Love

मिल जाएंगे मुझे जैसे लाखों मगर.. तुम जैसा है कोई नहीं... जैसा सोचा.. वैसा पाया.. अब कुछ और की चाह नहीं... कितना कोमल हृदय तुम्हारा.. छल और ईर्ष्या का नाम नहीं.. मैं जैसी भी हूं "तुम्हारे लिए".. मुझ से प्यारा कोई और नहीं l डॉ सोनी, मुजफ्फरपुर ©Dr SONI

#alone  मिल जाएंगे मुझे जैसे लाखों मगर.. 
तुम जैसा है कोई नहीं... 
जैसा सोचा.. वैसा पाया.. 
अब कुछ और की चाह नहीं... 
कितना कोमल हृदय तुम्हारा.. 
छल और ईर्ष्या का नाम नहीं.. 
मैं जैसी भी हूं "तुम्हारे लिए".. 
मुझ से प्यारा कोई और नहीं l

डॉ सोनी, मुजफ्फरपुर

©Dr SONI

#alone

25 Love

यूं ही नहीं... कोई दिल को भाता है.. यूं ही नहीं... कोई अपना सा लगता है... कुछ तो बात है... उसकी सादगी में भी... यूं ही नहीं... मन उस ओर चला जाता है... उसका साथ... है खुला आसमान... जहां ख्वाबों के पंख लगा... पंछी बन उड़ जाती हूं मैं.... रख देती हूं... दिल के जज्बात... करती हूं... ढेर सारी बातें उससे.... सुनती है... वो अक्सर चुप्पी लगा... समझती है मुझे... कहती है नादान हूं मैं... इस दम्भ भरी दुनिया से... अनजान हूं मैं.. पर वो है बड़ी समझदार.. रहती है बिंदास... उसके जिक्र से खुशियां जगे.. उसका शोर भी संगीत लगे, गुणों की भंडार वो.. दुःख कंटक भी सुमन से लगे.. उस पर हक जताना.. अच्छा लगता है... भूल जाती हूं.. हर ग़म को.. बस यूँ ही.. संग हंसना.. अच्छा लगता है.. शायद.. पिछले जन्म का नाता है... उसके बिन.. कहां.. कुछ.. भाता है.. वो है तो सब है.. उस दोस्त में.. दिखता मुझे रब है... ❤️❤️❤️❤️ ©Dr SONI

#YouNme  यूं ही नहीं... 
कोई दिल को भाता है.. 
यूं ही नहीं... 
कोई अपना सा लगता है... 
कुछ तो बात है... 
उसकी सादगी में भी... 
यूं ही नहीं... 
मन उस ओर चला जाता है... 
उसका साथ... 
है खुला आसमान... 
जहां ख्वाबों के पंख लगा... 
पंछी बन उड़ जाती हूं मैं.... 
रख देती हूं... 
दिल के जज्बात... 
करती हूं... 
ढेर सारी बातें उससे.... 
सुनती है... 
वो अक्सर चुप्पी लगा... 
समझती है मुझे... 
कहती है नादान हूं मैं... 
इस दम्भ भरी दुनिया से... 
अनजान हूं मैं.. 
पर वो है बड़ी समझदार.. 
रहती है बिंदास... 
उसके जिक्र से खुशियां जगे.. 
उसका शोर भी संगीत लगे, 
गुणों की भंडार वो.. 
दुःख कंटक भी सुमन से लगे.. 
उस पर हक जताना.. 
अच्छा लगता है... 
भूल जाती हूं.. 
हर ग़म को.. 
बस यूँ ही.. 
संग हंसना.. अच्छा लगता है.. 
शायद.. 
पिछले जन्म का नाता है... 
उसके बिन.. 
कहां.. कुछ.. भाता है.. 
वो है तो सब है.. 
उस दोस्त में.. 
दिखता मुझे रब है... 
❤️❤️❤️❤️

©Dr SONI

#YouNme

23 Love

Shweta Dayal Srivastava Sudha Tripathi @khubsurat @J P Lodhi.

744 View

मिल जाएंगे मुझे जैसे लाखों मगर.. तुम जैसा है कोई नहीं... जैसा सोचा.. वैसा पाया.. अब कुछ और की चाह नहीं... कितना कोमल हृदय तुम्हारा.. छल और ईर्ष्या का नाम नहीं.. मैं जैसी भी हूं "तुम्हारे लिए".. मुझ से प्यारा कोई और नहीं l डॉ सोनी, मुजफ्फरपुर ©Dr SONI

#shaadi  मिल जाएंगे मुझे जैसे लाखों मगर.. 
तुम जैसा है कोई नहीं... 
जैसा सोचा.. वैसा पाया.. 
अब कुछ और की चाह नहीं... 
कितना कोमल हृदय तुम्हारा.. 
छल और ईर्ष्या का नाम नहीं.. 
मैं जैसी भी हूं "तुम्हारे लिए".. 
मुझ से प्यारा कोई और नहीं l

डॉ सोनी, मुजफ्फरपुर

©Dr SONI

#shaadi @Chandramukhi Mourya Bhagat Shweta Dayal Srivastava

49 Love

ये जीवन है रंगों से भरा, रंग बिन सब कुछ है अधूरा, रंग हमें उत्साहित करते, सुन्दर भावों से अलंकृत करते, यदि व्यक्ति पर चढ़ जाए तो, पुलकित मन, तन झंकृत हो, लाल, हरा, नीला, पीला, मन भावे सब रंग नया, प्रेम, स्नेह, दया भक्ति का रंग चढ़ा, ये तुच्छ जीवन तब आदर्श बना, रंग द्वेष, ईर्ष्या, घृणा, झूठ से दूर रहे, अपने जीवन के विषाद को हम खत्म करे, ले संकल्प इस होली त्योहार, सार्थक हो जीवन समरस व्यावहार l आप सभी को होली की हार्दिक शुभकामनाएं 💞💞 ©Dr SONI

#Holi  ये जीवन है रंगों से भरा,
रंग बिन सब कुछ है अधूरा,
रंग हमें उत्साहित करते,
सुन्दर भावों से अलंकृत करते,
यदि व्यक्ति पर चढ़ जाए तो,
पुलकित मन, तन झंकृत हो,
लाल, हरा, नीला, पीला,
मन भावे सब रंग नया,
प्रेम, स्नेह, दया भक्ति का रंग चढ़ा,
ये तुच्छ जीवन तब आदर्श बना,
रंग द्वेष, ईर्ष्या, घृणा, झूठ से दूर रहे,
अपने जीवन के विषाद को हम खत्म करे,
ले संकल्प इस होली त्योहार,
सार्थक हो जीवन समरस व्यावहार l

आप सभी को होली की हार्दिक शुभकामनाएं 💞💞

©Dr SONI

#Holi

30 Love

Trending Topic