tags

New deepika padukone 2009 Status, Photo, Video

Find the latest Status about deepika padukone 2009 from top creators only on Nojoto App. Also find trending photos & videos.

  • Latest Stories

Hrithik Roshan joins the bandwagon of Hollywood aspirants

Despite the stardom that they enjoy in India, Bollywood stars are increasingly looking for work in the West. After Priyanka Chopra and Deepika Padukone, now a host of stars including Hrithik Roshan and Sonam Kapoor hope to make it big in Hollywood.42-year-old Hrithik Roshan has been in the news lately, not for his ugly legal spat with Kangana Ranaut or the teaser of his next film Kaabil that has earned him rave reviews, but this time

8 Love

"Shaitan Kehta Hai Ki 2009 में मैं बच्चा था भले ही उम्र में कच्चा था पर इरादों का पक्का था ईमान का सच्चा था पर अब मैं उम्र में पक्का हूँ पर इरादों में कच्चा हूँ अब तो खुद से झूठ बोल लेता हूँ क्योंकि जवानी की दहलीज़ पे मैं कदम रख चुका हूं 2009 में मैं बच्चा था हौसलो का पक्का था दिल का भी अच्छा था अब तो हौसले भी टूट चुके हैं दिल मे भी सिर्फ कपट है क्योंकि ये शख्स अब जवानी की दहलीज पे है 2009 में मैं बच्चा था थोड़ा शरारती था दिमाग मे शैतानी भरी थी लोगो को परेशान करने की आदत थी पर अब ये खुद में एक शैतान है दिमाग मे सिर्फ इसके खुरापात है धोखा देना इसकी फितरत है क्योकि ये जवानी की दहलीज पर है Harshit saxena {vasu} #NojotoQuote"

Shaitan Kehta Hai Ki 2009  में मैं बच्चा था 
भले ही उम्र में कच्चा था 
पर इरादों का पक्का था
ईमान का सच्चा था
                       पर अब मैं उम्र में पक्का हूँ 
                       पर इरादों में कच्चा हूँ 
                       अब तो खुद से झूठ बोल लेता हूँ
                       क्योंकि जवानी की दहलीज़ पे 
                       मैं कदम रख चुका हूं
2009 में मैं बच्चा था
हौसलो का पक्का था 
दिल का भी अच्छा था 
                       अब तो हौसले भी टूट चुके हैं
                       दिल मे भी सिर्फ कपट है
                       क्योंकि ये शख्स अब
                       जवानी की दहलीज पे है
2009 में मैं बच्चा था
थोड़ा शरारती था
दिमाग मे शैतानी भरी थी 
लोगो को परेशान करने की आदत थी
                    पर अब ये खुद में एक शैतान है
                    दिमाग मे सिर्फ इसके खुरापात है
                    धोखा देना इसकी फितरत है 
                    क्योकि ये जवानी की दहलीज पर है

Harshit saxena {vasu} #NojotoQuote

2009 me main bccha tha
#Life#Truth#bachpan

5 Love

"जीवन को कैसे जीयें ? माइकल जैक्सन 150 साल जीना चाहता था! किसी सेे साथ हाथ मिलाने से पहले दस्ताने पहनता था! लोगों के बीच में जाने से पहले मुंह पर मास्क लगाता था ! अपनी देखरेख करने के लिए उसने अपने घर पर 12 डॉक्टर्स नियुक्त किए हुए थे ! जो उसके सर के बाल से लेकर पांव के नाखून तक की जांच प्रतिदिन किया करते थे! उसका खाना लैबोरेट्री में चेक होने के बाद उसे खिलाया जाता था! स्वयं को व्यायाम करवाने के लिए उसने 15 लोगों को रखा हुआ था! माइकल जैकसन अश्वेत था, उसने 1987 में प्लास्टिक सर्जरी करवाकर अपनी त्वचा को गोरा बनवा लिया था! अपने काले मां-बाप और काले दोस्तों को भी छोड़ दिया गोरा होने के बाद उसने गोरे मां-बाप को किराए पर लिया! और अपने दोस्त भी गोरे बनाए शादी भी गोरी औरतों के साथ की! नवम्बर 15 को माइकल ने अपनी नर्स डेबी रो से विवाह किया, जिसने प्रिंस माइकल जैक्सन जूनियर (1997) तथा पेरिस माइकल केथरीन (3 अपैल 1998) को जन्म दिया। वो डेढ़ सौ साल तक जीने के लक्ष्य को लेकर चल रहा था! हमेशा ऑक्सीजन वाले बेड पर सोता था उसने अपने लिए अंगदान करने वाले डोनर भी तैयार कर रखे थे! जिन्हें वह खर्चा देता था, ताकि समय आने पर उसे किडनी, फेफड़े, आंखें या किसी भी शरीर के अन्य अंग की जरूरत पड़ने पर वह आकर दे दें, उसको लगता था वह पैसे और अपने रसूख की बदौलत मौत को भी चकमा दे सकता है, लेकिन वह गलत साबित हुआ 25 जून 2009 को उसके दिल की धड़कन रुकने लगी, उसके घर पर 12 डॉक्टर की मौजूदगी में हालत काबू में नहीं आए, सारे शहर के डाक्टर उसके घर पर जमा हो गए वह भी उसे नहीं बचा पाए। उसने 25 साल तक डॉक्टर की सलाह के विपरीत, कुछ नहीं खाया! अंत समय में उसकी हालत बहुत खराब हो गई थी 50 साल तक आते-आते वह पतन के करीब ही पहुंच गया था और 25 जून 2009 को वह इस दुनिया से चला गया ! जिसने अपने लिए डेढ़ सौ साल जीने का इंतजाम कर रखा था! उसका इंतजाम धरा का धरा रह गया! जब उसकी बॉडी का पोस्टमार्टम हुआ तो डॉक्टर ने बताया कि, उसका शरीर हड्डियों का ढांचा बन चुका था! उसका सिर गंजा था, उसकी पसलियां कंधे हड्डियां टूट चुके थे, उसके शरीर पर अनगिनत सुई के निशान थे, प्लास्टिक सर्जरी के कारण होने वाले दर्द से छुटकारा पाने के लिए एंटीबायोटिक वाले दर्जनों इंजेक्शन उसे दिन में लेने पड़ते थे! माइकल जैक्सन की अंतिम यात्रा को 2.5 अरब लोगो ने लाइव देखा था। यह अब तक की सबसे ज़्यादा देखे जाने वाली लाइव ब्रॉडकास्ट हैं। माइकल जैक्सन की मृत्यु के दिन यानी 25 जून 2009 को 3:15 PM पर, Wikipedia,Twitter और AOL’s instant messenger यह सभी क्रैश हो गए थे। उसकी मौत की खबर का पता चलता ही गूगल पर 8 लाख लोगों ने माइकल जैकसन को सर्च किया! ज्यादा सर्च होने के कारण गूगल पर सबसे बड़ा ट्रैफिक जाम हुआ था! और गूगल क्रैश हो गया, ढाई घंटे तक गूगल काम नहीं कर पाया! मौत को चकमा देने की सोचने वाले हमेशा मौत से चकमा खा ही जाते हैं! सार यही है, बनावटी दुनिया के बनावटी लोग कुदरती मौत की बजाय बनावटी मौत ही मरते हैं! "क्यों करते हो गुरुर अपने चार दिन के ठाठ पर , मुठ्ठी भी खाली रहेंगी जब पहुँचोगे घाट पर"... कुछ गंभीर प्रश्न-- चिन्तन अवश्य कीजियेगा....... क्या हम बिल्डर्स, इंटीरियर डिजाइनर्स, केटरर्स और डेकोरेटर्स के लिए कमा रहे हैं ? हम बड़े-बड़े क़ीमती मकानों और बेहद खर्चीली शादियों से किसे इम्प्रेस करना चाहते हैं ? क्या आपको याद है कि, दो दिन पहले किसी की शादी पर आपने क्या खाया था ? जीवन के प्रारंभिक वर्षों में, क्यों हम पशुओं की तरह काम में जुते रहते हैं ? कितनी पीढ़ियों के,खान पान और लालन पालन की व्यवस्था करनी है हमें ? हम में से अधिकाँश लोगों के दो बच्चे हैं। बहुतों का तो सिर्फ एक ही बच्चा है। "हमारी जरूरत कितनी हैं ?और हम पाना कितना चाहते हैं"? इस बारे में सोचिए। क्या हमारी अगली पीढ़ी कमाने में सक्षम नहीं है जो, हम उनके लिए ज्यादा से ज्यादा सेविंग कर देना चाहते हैं ? क्या हम सप्ताह में डेढ़ दिन अपने मित्रों, अपने परिवार और अपने लिए स्पेयर नहीं कर सकते ? क्या आप अपनी मासिक आय का 5% अपने आनंद के लिए, अपनी ख़ुशी के लिए खर्च करते हैं ? सामान्यतः जवाब नहीं में ही होता है हम कमाने के साथ साथ आनंद भी क्यों नहीं प्राप्त कर सकते ? इससे पहले कि आप स्लिप डिस्क्स का शिकार हो जाएँ, इससे पहले कि, कोलोस्ट्रोल आपके हार्ट को ब्लॉक कर दे, आनंद प्राप्ति के लिए समय निकालिए !! हम किसी प्रॉपर्टी के मालिक नहीं होते, सिर्फ कुछ कागजातों, कुछ दस्तावेजों पर अस्थाई रूप से हमारा नाम लिखा होता है। ईश्वर भी व्यंग्यात्मक रूप से हँसेगा जब कोई उसे कहेगा कि, "मैं जमीन के इस टुकड़े का मालिक हूँ " किसी के बारे में, उसके शानदार कपड़े और बढ़िया कार देखकर, राय कायम मत कीजिए। हमारे महान गणित और विज्ञान के शिक्षक स्कूटर पर ही आया जाया करते थे !!* धनवान होना गलत नहीं है , बल्कि....... "सिर्फ धनवान होना गलत है" आइए ज़िंदगी को पकड़ें, इससे पहले कि, जिंदगी हमें पकड़ ले... एक दिन हम सब जुदा हो जाएँगे, तब अपनी बातें, अपने सपने हम बहुत मिस करेंगे। दिन, महीने, साल गुजर जाएँगे, शायद कभी कोई संपर्क भी नहीं रहेगा। एक रोज हमारी बहुत पुरानी तस्वीर देखकर हमारे बच्चे हमी से पूछेंगे कि, "तस्वीर में ये दुसरे लोग कौन हैं" ? तब हम मुस्कुराकर अपने अदृश्य आँसुओं के साथ बड़े फख्र से कहेंगे--- "ये वो लोग हैं, जिनके साथ मैंने अपने जीवन के बेहतरीन दिन गुजारे हैं। " इस मैसेज को अपने उन सभी मित्रों को पोस्ट कीजिए, जिन्हें आप कभी भूल नहीं पाएँगे ।।। 🙏 🙏 राणा जी 🙏 🙏"

जीवन को कैसे जीयें ?

माइकल जैक्सन 150 साल जीना चाहता था! 
किसी सेे साथ हाथ मिलाने से पहले दस्ताने
पहनता था! 
लोगों के बीच में जाने से पहले मुंह पर मास्क
लगाता था !
अपनी देखरेख करने के लिए उसने 
अपने घर पर 12 डॉक्टर्स नियुक्त किए हुए थे !
जो उसके सर के बाल से लेकर पांव के नाखून तक की
जांच प्रतिदिन किया करते थे! 
उसका खाना लैबोरेट्री में चेक होने के बाद उसे 
खिलाया जाता था! 
स्वयं को व्यायाम करवाने के लिए उसने
15 लोगों को रखा हुआ था!
माइकल जैकसन अश्वेत था,
उसने 1987 में प्लास्टिक सर्जरी करवाकर
अपनी त्वचा को गोरा बनवा लिया था!
अपने काले मां-बाप और काले दोस्तों को भी
छोड़ दिया 
गोरा होने के बाद उसने गोरे मां-बाप को
किराए पर लिया! और 
अपने दोस्त भी गोरे बनाए
शादी भी गोरी औरतों के साथ की!
नवम्बर 15 को माइकल ने अपनी नर्स डेबी रो 
से विवाह किया, 
जिसने प्रिंस माइकल जैक्सन जूनियर (1997) 
तथा 
पेरिस माइकल केथरीन (3 अपैल 1998) को 
जन्म दिया।
वो डेढ़ सौ साल तक जीने के लक्ष्य को लेकर
चल रहा था! 
हमेशा ऑक्सीजन वाले बेड पर सोता था
उसने अपने लिए अंगदान करने वाले 
डोनर भी तैयार कर रखे थे! 
जिन्हें वह खर्चा देता था,
ताकि समय आने पर उसे किडनी, फेफड़े, आंखें 
या किसी भी शरीर के अन्य अंग की जरूरत
पड़ने पर वह आकर दे दें, 
उसको लगता था वह पैसे और अपने रसूख की
बदौलत मौत को भी चकमा दे सकता है,
लेकिन वह गलत साबित हुआ 
25 जून 2009 को उसके दिल की धड़कन
रुकने लगी,
उसके घर पर 12 डॉक्टर की मौजूदगी में
हालत काबू में नहीं आए, 
सारे शहर के डाक्टर उसके घर पर जमा हो गए 
वह भी उसे नहीं बचा पाए।

उसने 25 साल तक डॉक्टर की सलाह के
विपरीत, कुछ नहीं खाया! 
अंत समय में उसकी हालत बहुत खराब हो गई थी 
50 साल तक आते-आते वह पतन के करीब ही पहुंच गया था
और 25 जून 2009 को
वह इस दुनिया से चला गया !
जिसने अपने लिए डेढ़ सौ साल जीने का
इंतजाम कर रखा था!
उसका इंतजाम धरा का धरा रह गया!
जब उसकी बॉडी का पोस्टमार्टम हुआ तो
डॉक्टर ने बताया कि,
उसका शरीर हड्डियों का ढांचा बन चुका था!
उसका सिर गंजा था,
उसकी पसलियां कंधे हड्डियां टूट चुके थे,
उसके शरीर पर अनगिनत सुई के निशान थे,
प्लास्टिक सर्जरी के कारण होने वाले दर्द से
छुटकारा पाने के लिए एंटीबायोटिक वाले
दर्जनों इंजेक्शन उसे दिन में लेने पड़ते थे!

 माइकल जैक्सन की अंतिम यात्रा को 
 2.5 अरब लोगो ने लाइव देखा था। 
 यह अब तक की सबसे ज़्यादा 
 देखे जाने वाली लाइव ब्रॉडकास्ट हैं।

 माइकल जैक्सन की मृत्यु के दिन यानी 
 25 जून 2009 को 3:15 PM पर,
 Wikipedia,Twitter और AOL’s
 instant messenger
 यह सभी क्रैश हो गए थे।
 उसकी मौत की खबर का पता चलता ही
 गूगल पर 8 लाख लोगों ने 
 माइकल जैकसन को सर्च किया! 
 ज्यादा सर्च होने के कारण गूगल पर 
 सबसे बड़ा ट्रैफिक जाम हुआ था! और 
 गूगल क्रैश हो गया,
 ढाई घंटे तक गूगल काम नहीं कर पाया!
 मौत को चकमा देने की सोचने वाले 
 हमेशा मौत से चकमा खा ही जाते हैं! 

सार यही है,
बनावटी दुनिया के बनावटी लोग 
कुदरती मौत की बजाय 
बनावटी मौत ही मरते हैं!

"क्यों करते हो गुरुर अपने चार दिन के ठाठ पर ,
मुठ्ठी भी खाली रहेंगी जब पहुँचोगे घाट पर"...

कुछ गंभीर प्रश्न--
चिन्तन अवश्य कीजियेगा.......

क्या हम बिल्डर्स, इंटीरियर डिजाइनर्स,
केटरर्स और डेकोरेटर्स के लिए कमा रहे हैं ? 

हम बड़े-बड़े क़ीमती मकानों और 
बेहद खर्चीली शादियों से
किसे इम्प्रेस करना चाहते हैं ?

क्या आपको याद है कि, 
दो दिन पहले किसी की शादी पर आपने 
क्या खाया था ?

जीवन के प्रारंभिक वर्षों में,
क्यों हम पशुओं की तरह काम में जुते रहते हैं ?

कितनी पीढ़ियों के,खान पान और 
लालन पालन की व्यवस्था करनी है हमें ?

हम में से अधिकाँश लोगों के दो बच्चे हैं। बहुतों का तो सिर्फ एक ही बच्चा है।

"हमारी जरूरत कितनी हैं ?और 
हम पाना कितना चाहते हैं"?

इस बारे में सोचिए।

क्या हमारी अगली पीढ़ी 
कमाने में सक्षम नहीं है जो, 
हम उनके लिए ज्यादा से ज्यादा 
सेविंग कर देना चाहते हैं ?

क्या हम सप्ताह में डेढ़ दिन अपने मित्रों,
अपने परिवार और अपने लिए 
स्पेयर नहीं कर सकते ?

क्या आप अपनी मासिक आय का 
5% अपने आनंद के लिए, 
अपनी ख़ुशी के लिए खर्च करते हैं ?

सामान्यतः जवाब नहीं में ही होता है

हम कमाने के साथ साथ 
आनंद भी क्यों नहीं प्राप्त कर सकते ?

इससे पहले कि आप 
स्लिप डिस्क्स का शिकार हो जाएँ, 
इससे पहले कि, 
कोलोस्ट्रोल आपके हार्ट को ब्लॉक कर दे,
आनंद प्राप्ति के लिए समय निकालिए !!

हम किसी प्रॉपर्टी के मालिक नहीं होते, 
सिर्फ कुछ कागजातों, कुछ दस्तावेजों पर
अस्थाई रूप से हमारा नाम लिखा होता है।

ईश्वर भी व्यंग्यात्मक रूप से हँसेगा 
जब कोई उसे कहेगा कि, 

"मैं जमीन के इस टुकड़े का मालिक हूँ " 

किसी के बारे में, 
उसके शानदार कपड़े और 
बढ़िया कार देखकर, 
राय कायम मत कीजिए।

हमारे महान गणित और विज्ञान के शिक्षक
स्कूटर पर ही आया जाया करते थे !!*

धनवान होना गलत नहीं है ,
बल्कि.......
"सिर्फ धनवान होना गलत है"

आइए ज़िंदगी को पकड़ें, 
इससे पहले कि, 
जिंदगी हमें पकड़ ले...

एक दिन हम सब जुदा हो जाएँगे, 
तब अपनी बातें, 
अपने सपने हम बहुत मिस करेंगे।

दिन, महीने, साल गुजर जाएँगे, 
शायद कभी कोई संपर्क भी नहीं रहेगा। 
एक रोज हमारी बहुत पुरानी तस्वीर देखकर  
हमारे बच्चे हमी से पूछेंगे कि,
"तस्वीर में ये दुसरे लोग कौन हैं" ?

तब हम मुस्कुराकर 
अपने अदृश्य आँसुओं के साथ 
बड़े फख्र से कहेंगे---

"ये वो लोग हैं, जिनके साथ मैंने 
अपने जीवन के बेहतरीन दिन गुजारे हैं। "

इस मैसेज को 
अपने उन सभी मित्रों को पोस्ट कीजिए,
जिन्हें आप कभी भूल नहीं पाएँगे ।।।

               🙏 🙏 राणा जी 🙏 🙏

 

4 Love

"2003 - 2009 Semi Complete 2009 - 2012 Incomplete 2012 - 2015 Complete 2015 - 2018 Incomplete हर लम्हा बिताया किसी को समझाया नहीं जाता अपनी अपनी जिन्दगी होती है आने वाले मोड़ पर अपनी जिद पे किसी को मज़बूर बनाया नहीं जाता - अविनाश प्रांजुल"

2003 - 2009 Semi Complete
2009 - 2012 Incomplete      
2012 - 2015 Complete         
2015 - 2018 Incomplete     

हर लम्हा बिताया किसी को समझाया नहीं जाता 
अपनी अपनी जिन्दगी होती है आने वाले मोड़ पर
अपनी जिद पे किसी को मज़बूर बनाया नहीं जाता 

                                         - अविनाश प्रांजुल

 

4 Love
1 Share

""केटी पैरी" अमेरिका की मशहूर गीतकार, संगीतकार और नृतकी भी है इन्हें बस वही नही जानते होंगे जो इंटरनेट की दुनियां से बेखबर है केटी पैरी "Twitter" पर आज भी प्रथम स्थान पर है ये 2009 में ट्विटर जुड़ी और सबसे अधिक पूरी दुनियां में इन्ही के फालोवर है बराक ओबामा, डोनाल्ड ट्रंप जैसे सख्सियत को भी काफी पीछे छोड़ दिया है केटी पैरी की जिन्दगी बहुत ही रोचक है और इन्हें भारतीय संस्कृति से बहुत ही लगाव है ये दुनियां को बहुत ही अलग नजरिये से देखती है इनका जीवन अन्य सेलिब्रिटीयों से अलग है क्योंकि जब मैं इनके बारे में खोज रहा था तो मुझे एक अंग्रेजी अख़बार "फ्रंट पेज वीमेन" से एक रोचक जानकारी मिली वर्ष 2017 में इन्होंने अपनी जिंदगी को एक हप्ते के लिए लाइव रखा जो कि अपने आप मे एक रिकॉर्ड है उसमें उनकी दैनिक जीवन की सारी क्रियायें जैसे सोने से लेकर खाने तक लाइव टी0बी0 पर 24 घण्टे दिखाया गया इसके लिए उन्होंने ने कहा "मुझे ऐसा महसूस होता है, मैं इंटरनेट पर पैदा हुई थी, मैं जब फिर से जन्म लूंगी तो वो भी इंटरनेट पर ही होगा" इनकी शादी 2009 में रसेल ब्रांड से राजस्थान में हिन्दू रीति रिवाजों से हुई और 2012 तक तलाक हो गया। आज केटी पैरी जैसा हर कोई बनना चाहता है क्योंकि इनकी जिंदगी बहुत ही संघर्षों से भरा है। यहाँ पर हम कुछ अंश में ब्लॉग लिखा है। राहुल राज मौर्या"

"केटी पैरी"

अमेरिका की मशहूर गीतकार, संगीतकार और नृतकी भी है इन्हें बस वही नही जानते होंगे जो इंटरनेट की दुनियां से बेखबर है केटी पैरी "Twitter" पर आज भी प्रथम स्थान पर है ये 2009 में ट्विटर जुड़ी और सबसे अधिक पूरी दुनियां में इन्ही के फालोवर है बराक ओबामा, डोनाल्ड ट्रंप जैसे सख्सियत को भी काफी पीछे छोड़ दिया है केटी पैरी की जिन्दगी बहुत ही रोचक है और इन्हें भारतीय संस्कृति से बहुत ही लगाव है ये दुनियां को बहुत ही अलग नजरिये से देखती है इनका जीवन अन्य सेलिब्रिटीयों से अलग है क्योंकि जब मैं इनके बारे में खोज रहा था तो मुझे एक अंग्रेजी अख़बार "फ्रंट पेज वीमेन" से एक रोचक जानकारी मिली वर्ष 2017 में इन्होंने अपनी जिंदगी को एक हप्ते के लिए लाइव रखा जो कि अपने आप मे एक रिकॉर्ड है उसमें उनकी दैनिक जीवन की सारी क्रियायें जैसे सोने से लेकर खाने तक लाइव टी0बी0 पर 24 घण्टे दिखाया गया इसके लिए उन्होंने ने कहा 
"मुझे ऐसा महसूस होता है, मैं इंटरनेट पर पैदा हुई थी, 
मैं जब फिर से जन्म लूंगी तो वो भी इंटरनेट पर ही होगा"
इनकी शादी 2009 में रसेल ब्रांड से राजस्थान में हिन्दू रीति रिवाजों से हुई और 2012 तक तलाक हो गया। आज केटी पैरी जैसा हर कोई बनना चाहता है क्योंकि इनकी जिंदगी बहुत ही  संघर्षों से भरा है। यहाँ पर हम कुछ अंश में ब्लॉग लिखा है।
राहुल राज मौर्या

#केटी पैरी #Nojoto

10 Love

Hrithik Roshan joins the bandwagon of Hollywood aspirants

Despite the stardom that they enjoy in India, Bollywood stars are increasingly looking for work in the West. After Priyanka Chopra and Deepika Padukone, now a host of stars including Hrithik Roshan and Sonam Kapoor hope to make it big in Hollywood.42-year-old Hrithik Roshan has been in the news lately, not for his ugly legal spat with Kangana Ranaut or the teaser of his next film Kaabil that has earned him rave reviews, but this time

8 Love

"Shaitan Kehta Hai Ki 2009 में मैं बच्चा था भले ही उम्र में कच्चा था पर इरादों का पक्का था ईमान का सच्चा था पर अब मैं उम्र में पक्का हूँ पर इरादों में कच्चा हूँ अब तो खुद से झूठ बोल लेता हूँ क्योंकि जवानी की दहलीज़ पे मैं कदम रख चुका हूं 2009 में मैं बच्चा था हौसलो का पक्का था दिल का भी अच्छा था अब तो हौसले भी टूट चुके हैं दिल मे भी सिर्फ कपट है क्योंकि ये शख्स अब जवानी की दहलीज पे है 2009 में मैं बच्चा था थोड़ा शरारती था दिमाग मे शैतानी भरी थी लोगो को परेशान करने की आदत थी पर अब ये खुद में एक शैतान है दिमाग मे सिर्फ इसके खुरापात है धोखा देना इसकी फितरत है क्योकि ये जवानी की दहलीज पर है Harshit saxena {vasu} #NojotoQuote"

Shaitan Kehta Hai Ki 2009  में मैं बच्चा था 
भले ही उम्र में कच्चा था 
पर इरादों का पक्का था
ईमान का सच्चा था
                       पर अब मैं उम्र में पक्का हूँ 
                       पर इरादों में कच्चा हूँ 
                       अब तो खुद से झूठ बोल लेता हूँ
                       क्योंकि जवानी की दहलीज़ पे 
                       मैं कदम रख चुका हूं
2009 में मैं बच्चा था
हौसलो का पक्का था 
दिल का भी अच्छा था 
                       अब तो हौसले भी टूट चुके हैं
                       दिल मे भी सिर्फ कपट है
                       क्योंकि ये शख्स अब
                       जवानी की दहलीज पे है
2009 में मैं बच्चा था
थोड़ा शरारती था
दिमाग मे शैतानी भरी थी 
लोगो को परेशान करने की आदत थी
                    पर अब ये खुद में एक शैतान है
                    दिमाग मे सिर्फ इसके खुरापात है
                    धोखा देना इसकी फितरत है 
                    क्योकि ये जवानी की दहलीज पर है

Harshit saxena {vasu} #NojotoQuote

2009 me main bccha tha
#Life#Truth#bachpan

5 Love

"जीवन को कैसे जीयें ? माइकल जैक्सन 150 साल जीना चाहता था! किसी सेे साथ हाथ मिलाने से पहले दस्ताने पहनता था! लोगों के बीच में जाने से पहले मुंह पर मास्क लगाता था ! अपनी देखरेख करने के लिए उसने अपने घर पर 12 डॉक्टर्स नियुक्त किए हुए थे ! जो उसके सर के बाल से लेकर पांव के नाखून तक की जांच प्रतिदिन किया करते थे! उसका खाना लैबोरेट्री में चेक होने के बाद उसे खिलाया जाता था! स्वयं को व्यायाम करवाने के लिए उसने 15 लोगों को रखा हुआ था! माइकल जैकसन अश्वेत था, उसने 1987 में प्लास्टिक सर्जरी करवाकर अपनी त्वचा को गोरा बनवा लिया था! अपने काले मां-बाप और काले दोस्तों को भी छोड़ दिया गोरा होने के बाद उसने गोरे मां-बाप को किराए पर लिया! और अपने दोस्त भी गोरे बनाए शादी भी गोरी औरतों के साथ की! नवम्बर 15 को माइकल ने अपनी नर्स डेबी रो से विवाह किया, जिसने प्रिंस माइकल जैक्सन जूनियर (1997) तथा पेरिस माइकल केथरीन (3 अपैल 1998) को जन्म दिया। वो डेढ़ सौ साल तक जीने के लक्ष्य को लेकर चल रहा था! हमेशा ऑक्सीजन वाले बेड पर सोता था उसने अपने लिए अंगदान करने वाले डोनर भी तैयार कर रखे थे! जिन्हें वह खर्चा देता था, ताकि समय आने पर उसे किडनी, फेफड़े, आंखें या किसी भी शरीर के अन्य अंग की जरूरत पड़ने पर वह आकर दे दें, उसको लगता था वह पैसे और अपने रसूख की बदौलत मौत को भी चकमा दे सकता है, लेकिन वह गलत साबित हुआ 25 जून 2009 को उसके दिल की धड़कन रुकने लगी, उसके घर पर 12 डॉक्टर की मौजूदगी में हालत काबू में नहीं आए, सारे शहर के डाक्टर उसके घर पर जमा हो गए वह भी उसे नहीं बचा पाए। उसने 25 साल तक डॉक्टर की सलाह के विपरीत, कुछ नहीं खाया! अंत समय में उसकी हालत बहुत खराब हो गई थी 50 साल तक आते-आते वह पतन के करीब ही पहुंच गया था और 25 जून 2009 को वह इस दुनिया से चला गया ! जिसने अपने लिए डेढ़ सौ साल जीने का इंतजाम कर रखा था! उसका इंतजाम धरा का धरा रह गया! जब उसकी बॉडी का पोस्टमार्टम हुआ तो डॉक्टर ने बताया कि, उसका शरीर हड्डियों का ढांचा बन चुका था! उसका सिर गंजा था, उसकी पसलियां कंधे हड्डियां टूट चुके थे, उसके शरीर पर अनगिनत सुई के निशान थे, प्लास्टिक सर्जरी के कारण होने वाले दर्द से छुटकारा पाने के लिए एंटीबायोटिक वाले दर्जनों इंजेक्शन उसे दिन में लेने पड़ते थे! माइकल जैक्सन की अंतिम यात्रा को 2.5 अरब लोगो ने लाइव देखा था। यह अब तक की सबसे ज़्यादा देखे जाने वाली लाइव ब्रॉडकास्ट हैं। माइकल जैक्सन की मृत्यु के दिन यानी 25 जून 2009 को 3:15 PM पर, Wikipedia,Twitter और AOL’s instant messenger यह सभी क्रैश हो गए थे। उसकी मौत की खबर का पता चलता ही गूगल पर 8 लाख लोगों ने माइकल जैकसन को सर्च किया! ज्यादा सर्च होने के कारण गूगल पर सबसे बड़ा ट्रैफिक जाम हुआ था! और गूगल क्रैश हो गया, ढाई घंटे तक गूगल काम नहीं कर पाया! मौत को चकमा देने की सोचने वाले हमेशा मौत से चकमा खा ही जाते हैं! सार यही है, बनावटी दुनिया के बनावटी लोग कुदरती मौत की बजाय बनावटी मौत ही मरते हैं! "क्यों करते हो गुरुर अपने चार दिन के ठाठ पर , मुठ्ठी भी खाली रहेंगी जब पहुँचोगे घाट पर"... कुछ गंभीर प्रश्न-- चिन्तन अवश्य कीजियेगा....... क्या हम बिल्डर्स, इंटीरियर डिजाइनर्स, केटरर्स और डेकोरेटर्स के लिए कमा रहे हैं ? हम बड़े-बड़े क़ीमती मकानों और बेहद खर्चीली शादियों से किसे इम्प्रेस करना चाहते हैं ? क्या आपको याद है कि, दो दिन पहले किसी की शादी पर आपने क्या खाया था ? जीवन के प्रारंभिक वर्षों में, क्यों हम पशुओं की तरह काम में जुते रहते हैं ? कितनी पीढ़ियों के,खान पान और लालन पालन की व्यवस्था करनी है हमें ? हम में से अधिकाँश लोगों के दो बच्चे हैं। बहुतों का तो सिर्फ एक ही बच्चा है। "हमारी जरूरत कितनी हैं ?और हम पाना कितना चाहते हैं"? इस बारे में सोचिए। क्या हमारी अगली पीढ़ी कमाने में सक्षम नहीं है जो, हम उनके लिए ज्यादा से ज्यादा सेविंग कर देना चाहते हैं ? क्या हम सप्ताह में डेढ़ दिन अपने मित्रों, अपने परिवार और अपने लिए स्पेयर नहीं कर सकते ? क्या आप अपनी मासिक आय का 5% अपने आनंद के लिए, अपनी ख़ुशी के लिए खर्च करते हैं ? सामान्यतः जवाब नहीं में ही होता है हम कमाने के साथ साथ आनंद भी क्यों नहीं प्राप्त कर सकते ? इससे पहले कि आप स्लिप डिस्क्स का शिकार हो जाएँ, इससे पहले कि, कोलोस्ट्रोल आपके हार्ट को ब्लॉक कर दे, आनंद प्राप्ति के लिए समय निकालिए !! हम किसी प्रॉपर्टी के मालिक नहीं होते, सिर्फ कुछ कागजातों, कुछ दस्तावेजों पर अस्थाई रूप से हमारा नाम लिखा होता है। ईश्वर भी व्यंग्यात्मक रूप से हँसेगा जब कोई उसे कहेगा कि, "मैं जमीन के इस टुकड़े का मालिक हूँ " किसी के बारे में, उसके शानदार कपड़े और बढ़िया कार देखकर, राय कायम मत कीजिए। हमारे महान गणित और विज्ञान के शिक्षक स्कूटर पर ही आया जाया करते थे !!* धनवान होना गलत नहीं है , बल्कि....... "सिर्फ धनवान होना गलत है" आइए ज़िंदगी को पकड़ें, इससे पहले कि, जिंदगी हमें पकड़ ले... एक दिन हम सब जुदा हो जाएँगे, तब अपनी बातें, अपने सपने हम बहुत मिस करेंगे। दिन, महीने, साल गुजर जाएँगे, शायद कभी कोई संपर्क भी नहीं रहेगा। एक रोज हमारी बहुत पुरानी तस्वीर देखकर हमारे बच्चे हमी से पूछेंगे कि, "तस्वीर में ये दुसरे लोग कौन हैं" ? तब हम मुस्कुराकर अपने अदृश्य आँसुओं के साथ बड़े फख्र से कहेंगे--- "ये वो लोग हैं, जिनके साथ मैंने अपने जीवन के बेहतरीन दिन गुजारे हैं। " इस मैसेज को अपने उन सभी मित्रों को पोस्ट कीजिए, जिन्हें आप कभी भूल नहीं पाएँगे ।।। 🙏 🙏 राणा जी 🙏 🙏"

जीवन को कैसे जीयें ?

माइकल जैक्सन 150 साल जीना चाहता था! 
किसी सेे साथ हाथ मिलाने से पहले दस्ताने
पहनता था! 
लोगों के बीच में जाने से पहले मुंह पर मास्क
लगाता था !
अपनी देखरेख करने के लिए उसने 
अपने घर पर 12 डॉक्टर्स नियुक्त किए हुए थे !
जो उसके सर के बाल से लेकर पांव के नाखून तक की
जांच प्रतिदिन किया करते थे! 
उसका खाना लैबोरेट्री में चेक होने के बाद उसे 
खिलाया जाता था! 
स्वयं को व्यायाम करवाने के लिए उसने
15 लोगों को रखा हुआ था!
माइकल जैकसन अश्वेत था,
उसने 1987 में प्लास्टिक सर्जरी करवाकर
अपनी त्वचा को गोरा बनवा लिया था!
अपने काले मां-बाप और काले दोस्तों को भी
छोड़ दिया 
गोरा होने के बाद उसने गोरे मां-बाप को
किराए पर लिया! और 
अपने दोस्त भी गोरे बनाए
शादी भी गोरी औरतों के साथ की!
नवम्बर 15 को माइकल ने अपनी नर्स डेबी रो 
से विवाह किया, 
जिसने प्रिंस माइकल जैक्सन जूनियर (1997) 
तथा 
पेरिस माइकल केथरीन (3 अपैल 1998) को 
जन्म दिया।
वो डेढ़ सौ साल तक जीने के लक्ष्य को लेकर
चल रहा था! 
हमेशा ऑक्सीजन वाले बेड पर सोता था
उसने अपने लिए अंगदान करने वाले 
डोनर भी तैयार कर रखे थे! 
जिन्हें वह खर्चा देता था,
ताकि समय आने पर उसे किडनी, फेफड़े, आंखें 
या किसी भी शरीर के अन्य अंग की जरूरत
पड़ने पर वह आकर दे दें, 
उसको लगता था वह पैसे और अपने रसूख की
बदौलत मौत को भी चकमा दे सकता है,
लेकिन वह गलत साबित हुआ 
25 जून 2009 को उसके दिल की धड़कन
रुकने लगी,
उसके घर पर 12 डॉक्टर की मौजूदगी में
हालत काबू में नहीं आए, 
सारे शहर के डाक्टर उसके घर पर जमा हो गए 
वह भी उसे नहीं बचा पाए।

उसने 25 साल तक डॉक्टर की सलाह के
विपरीत, कुछ नहीं खाया! 
अंत समय में उसकी हालत बहुत खराब हो गई थी 
50 साल तक आते-आते वह पतन के करीब ही पहुंच गया था
और 25 जून 2009 को
वह इस दुनिया से चला गया !
जिसने अपने लिए डेढ़ सौ साल जीने का
इंतजाम कर रखा था!
उसका इंतजाम धरा का धरा रह गया!
जब उसकी बॉडी का पोस्टमार्टम हुआ तो
डॉक्टर ने बताया कि,
उसका शरीर हड्डियों का ढांचा बन चुका था!
उसका सिर गंजा था,
उसकी पसलियां कंधे हड्डियां टूट चुके थे,
उसके शरीर पर अनगिनत सुई के निशान थे,
प्लास्टिक सर्जरी के कारण होने वाले दर्द से
छुटकारा पाने के लिए एंटीबायोटिक वाले
दर्जनों इंजेक्शन उसे दिन में लेने पड़ते थे!

 माइकल जैक्सन की अंतिम यात्रा को 
 2.5 अरब लोगो ने लाइव देखा था। 
 यह अब तक की सबसे ज़्यादा 
 देखे जाने वाली लाइव ब्रॉडकास्ट हैं।

 माइकल जैक्सन की मृत्यु के दिन यानी 
 25 जून 2009 को 3:15 PM पर,
 Wikipedia,Twitter और AOL’s
 instant messenger
 यह सभी क्रैश हो गए थे।
 उसकी मौत की खबर का पता चलता ही
 गूगल पर 8 लाख लोगों ने 
 माइकल जैकसन को सर्च किया! 
 ज्यादा सर्च होने के कारण गूगल पर 
 सबसे बड़ा ट्रैफिक जाम हुआ था! और 
 गूगल क्रैश हो गया,
 ढाई घंटे तक गूगल काम नहीं कर पाया!
 मौत को चकमा देने की सोचने वाले 
 हमेशा मौत से चकमा खा ही जाते हैं! 

सार यही है,
बनावटी दुनिया के बनावटी लोग 
कुदरती मौत की बजाय 
बनावटी मौत ही मरते हैं!

"क्यों करते हो गुरुर अपने चार दिन के ठाठ पर ,
मुठ्ठी भी खाली रहेंगी जब पहुँचोगे घाट पर"...

कुछ गंभीर प्रश्न--
चिन्तन अवश्य कीजियेगा.......

क्या हम बिल्डर्स, इंटीरियर डिजाइनर्स,
केटरर्स और डेकोरेटर्स के लिए कमा रहे हैं ? 

हम बड़े-बड़े क़ीमती मकानों और 
बेहद खर्चीली शादियों से
किसे इम्प्रेस करना चाहते हैं ?

क्या आपको याद है कि, 
दो दिन पहले किसी की शादी पर आपने 
क्या खाया था ?

जीवन के प्रारंभिक वर्षों में,
क्यों हम पशुओं की तरह काम में जुते रहते हैं ?

कितनी पीढ़ियों के,खान पान और 
लालन पालन की व्यवस्था करनी है हमें ?

हम में से अधिकाँश लोगों के दो बच्चे हैं। बहुतों का तो सिर्फ एक ही बच्चा है।

"हमारी जरूरत कितनी हैं ?और 
हम पाना कितना चाहते हैं"?

इस बारे में सोचिए।

क्या हमारी अगली पीढ़ी 
कमाने में सक्षम नहीं है जो, 
हम उनके लिए ज्यादा से ज्यादा 
सेविंग कर देना चाहते हैं ?

क्या हम सप्ताह में डेढ़ दिन अपने मित्रों,
अपने परिवार और अपने लिए 
स्पेयर नहीं कर सकते ?

क्या आप अपनी मासिक आय का 
5% अपने आनंद के लिए, 
अपनी ख़ुशी के लिए खर्च करते हैं ?

सामान्यतः जवाब नहीं में ही होता है

हम कमाने के साथ साथ 
आनंद भी क्यों नहीं प्राप्त कर सकते ?

इससे पहले कि आप 
स्लिप डिस्क्स का शिकार हो जाएँ, 
इससे पहले कि, 
कोलोस्ट्रोल आपके हार्ट को ब्लॉक कर दे,
आनंद प्राप्ति के लिए समय निकालिए !!

हम किसी प्रॉपर्टी के मालिक नहीं होते, 
सिर्फ कुछ कागजातों, कुछ दस्तावेजों पर
अस्थाई रूप से हमारा नाम लिखा होता है।

ईश्वर भी व्यंग्यात्मक रूप से हँसेगा 
जब कोई उसे कहेगा कि, 

"मैं जमीन के इस टुकड़े का मालिक हूँ " 

किसी के बारे में, 
उसके शानदार कपड़े और 
बढ़िया कार देखकर, 
राय कायम मत कीजिए।

हमारे महान गणित और विज्ञान के शिक्षक
स्कूटर पर ही आया जाया करते थे !!*

धनवान होना गलत नहीं है ,
बल्कि.......
"सिर्फ धनवान होना गलत है"

आइए ज़िंदगी को पकड़ें, 
इससे पहले कि, 
जिंदगी हमें पकड़ ले...

एक दिन हम सब जुदा हो जाएँगे, 
तब अपनी बातें, 
अपने सपने हम बहुत मिस करेंगे।

दिन, महीने, साल गुजर जाएँगे, 
शायद कभी कोई संपर्क भी नहीं रहेगा। 
एक रोज हमारी बहुत पुरानी तस्वीर देखकर  
हमारे बच्चे हमी से पूछेंगे कि,
"तस्वीर में ये दुसरे लोग कौन हैं" ?

तब हम मुस्कुराकर 
अपने अदृश्य आँसुओं के साथ 
बड़े फख्र से कहेंगे---

"ये वो लोग हैं, जिनके साथ मैंने 
अपने जीवन के बेहतरीन दिन गुजारे हैं। "

इस मैसेज को 
अपने उन सभी मित्रों को पोस्ट कीजिए,
जिन्हें आप कभी भूल नहीं पाएँगे ।।।

               🙏 🙏 राणा जी 🙏 🙏

 

4 Love

"2003 - 2009 Semi Complete 2009 - 2012 Incomplete 2012 - 2015 Complete 2015 - 2018 Incomplete हर लम्हा बिताया किसी को समझाया नहीं जाता अपनी अपनी जिन्दगी होती है आने वाले मोड़ पर अपनी जिद पे किसी को मज़बूर बनाया नहीं जाता - अविनाश प्रांजुल"

2003 - 2009 Semi Complete
2009 - 2012 Incomplete      
2012 - 2015 Complete         
2015 - 2018 Incomplete     

हर लम्हा बिताया किसी को समझाया नहीं जाता 
अपनी अपनी जिन्दगी होती है आने वाले मोड़ पर
अपनी जिद पे किसी को मज़बूर बनाया नहीं जाता 

                                         - अविनाश प्रांजुल

 

4 Love
1 Share

""केटी पैरी" अमेरिका की मशहूर गीतकार, संगीतकार और नृतकी भी है इन्हें बस वही नही जानते होंगे जो इंटरनेट की दुनियां से बेखबर है केटी पैरी "Twitter" पर आज भी प्रथम स्थान पर है ये 2009 में ट्विटर जुड़ी और सबसे अधिक पूरी दुनियां में इन्ही के फालोवर है बराक ओबामा, डोनाल्ड ट्रंप जैसे सख्सियत को भी काफी पीछे छोड़ दिया है केटी पैरी की जिन्दगी बहुत ही रोचक है और इन्हें भारतीय संस्कृति से बहुत ही लगाव है ये दुनियां को बहुत ही अलग नजरिये से देखती है इनका जीवन अन्य सेलिब्रिटीयों से अलग है क्योंकि जब मैं इनके बारे में खोज रहा था तो मुझे एक अंग्रेजी अख़बार "फ्रंट पेज वीमेन" से एक रोचक जानकारी मिली वर्ष 2017 में इन्होंने अपनी जिंदगी को एक हप्ते के लिए लाइव रखा जो कि अपने आप मे एक रिकॉर्ड है उसमें उनकी दैनिक जीवन की सारी क्रियायें जैसे सोने से लेकर खाने तक लाइव टी0बी0 पर 24 घण्टे दिखाया गया इसके लिए उन्होंने ने कहा "मुझे ऐसा महसूस होता है, मैं इंटरनेट पर पैदा हुई थी, मैं जब फिर से जन्म लूंगी तो वो भी इंटरनेट पर ही होगा" इनकी शादी 2009 में रसेल ब्रांड से राजस्थान में हिन्दू रीति रिवाजों से हुई और 2012 तक तलाक हो गया। आज केटी पैरी जैसा हर कोई बनना चाहता है क्योंकि इनकी जिंदगी बहुत ही संघर्षों से भरा है। यहाँ पर हम कुछ अंश में ब्लॉग लिखा है। राहुल राज मौर्या"

"केटी पैरी"

अमेरिका की मशहूर गीतकार, संगीतकार और नृतकी भी है इन्हें बस वही नही जानते होंगे जो इंटरनेट की दुनियां से बेखबर है केटी पैरी "Twitter" पर आज भी प्रथम स्थान पर है ये 2009 में ट्विटर जुड़ी और सबसे अधिक पूरी दुनियां में इन्ही के फालोवर है बराक ओबामा, डोनाल्ड ट्रंप जैसे सख्सियत को भी काफी पीछे छोड़ दिया है केटी पैरी की जिन्दगी बहुत ही रोचक है और इन्हें भारतीय संस्कृति से बहुत ही लगाव है ये दुनियां को बहुत ही अलग नजरिये से देखती है इनका जीवन अन्य सेलिब्रिटीयों से अलग है क्योंकि जब मैं इनके बारे में खोज रहा था तो मुझे एक अंग्रेजी अख़बार "फ्रंट पेज वीमेन" से एक रोचक जानकारी मिली वर्ष 2017 में इन्होंने अपनी जिंदगी को एक हप्ते के लिए लाइव रखा जो कि अपने आप मे एक रिकॉर्ड है उसमें उनकी दैनिक जीवन की सारी क्रियायें जैसे सोने से लेकर खाने तक लाइव टी0बी0 पर 24 घण्टे दिखाया गया इसके लिए उन्होंने ने कहा 
"मुझे ऐसा महसूस होता है, मैं इंटरनेट पर पैदा हुई थी, 
मैं जब फिर से जन्म लूंगी तो वो भी इंटरनेट पर ही होगा"
इनकी शादी 2009 में रसेल ब्रांड से राजस्थान में हिन्दू रीति रिवाजों से हुई और 2012 तक तलाक हो गया। आज केटी पैरी जैसा हर कोई बनना चाहता है क्योंकि इनकी जिंदगी बहुत ही  संघर्षों से भरा है। यहाँ पर हम कुछ अंश में ब्लॉग लिखा है।
राहुल राज मौर्या

#केटी पैरी #Nojoto

10 Love