Nojoto: Largest Storytelling Platform

Best keepdreaming Shayari, Status, Quotes, Stories

Find the Best keepdreaming Shayari, Status, Quotes from top creators only on Nojoto App. Also find trending photos & videos about

  • 8 Followers
  • 10 Stories
    PopularLatestVideo

Sakshi Vashist

Dreams Jan'16 #Dreams #dreamstory #dreamer #keepdreaming

read more
I had a dream last night
We were sitting 
Smiling and laughing
Happy like normal being 
No hurtful sentences said
Ni childish remarks passed
It felt like all out nightmares
Had finally gone away.
I saw a story we never had
But your present in the future
Was beautiful than I could ever
Dream of dreaming 
Amicable and able to talk
We stayed friends
Yes, friends
It was a normal, I know
I could never have 
Knowing that only in dreams can
Things really come true — % & Dreams

Jan'16

#dreams #dreamstory #dreamer #keepdreaming

Sakshi Vashist

I dream
Not because I have many aspirations
But because I don't want my hopes to be broken
I dream
Not because I feel sleepy
But because I don't want to face the world
I dream
Not because I love fictitious characters
But because I want to run away from reality
I dream
Not because I have no other work
But because I don't want to do that work
I dream
Not because I am not interested
But because I am never noticed
I dream
Not because I have a lot of time to pass
But because I have to somehow cut my time
I dream
Not because I want all of them to come true
But because I hope that some of them do — % & I dream....do you?

#dream #dreams #dreamer #dreamers #dreamscometrue #dreambig #keepdreaming

Darshan Blon

#yqdidi #hindipoetry #staymotivated #thinkbig #keepdreaming #WorkHard अपने इरादों को ऊँचा रखें गुरूर को नहीं, अपने अभिमान को झुकाये रखें ईमान को नहीं, अपने सपनों को अपनाये डर और हार को नहीं, मेहनत परिश्रम को मित्र बनायें आलस और सुस्तीपन को नहीं, मुश्किलातों से गुज़र रहा है हर कोई आसान ज़िन्दगी यहाँ किसी के लिए भी नहीं,

read more
अपने इरादों को ऊँचा रखें गुरूर को नहीं,
अपने अभिमान को झुकाये रखें ईमान को नहीं,
अपने सपनों को अपनाये डर और हार को नहीं,
मेहनत परिश्रम को मित्र बनायें आलस और सुस्तीपन को नहीं,
मुश्किलातों से गुज़र रहा है हर कोई
आसान ज़िन्दगी यहाँ किसी के लिए भी नहीं,
फर्क बस इतना है की-
कोई फूलों में भी काँटा ढूढ़ने लगते है 
और कोई 
कागज़ के फूलों में भी ज़िन्दगी ढूंढ लेते है l #yqdidi #hindipoetry #staymotivated #thinkbig #keepdreaming #workhard 

अपने इरादों को ऊँचा रखें गुरूर को नहीं,
अपने अभिमान को झुकाये रखें ईमान को नहीं,
अपने सपनों को अपनाये डर और हार को नहीं,
मेहनत परिश्रम को मित्र बनायें आलस और सुस्तीपन को नहीं,
मुश्किलातों से गुज़र रहा है हर कोई
आसान ज़िन्दगी यहाँ किसी के लिए भी नहीं,

Darshan Blon

Image credit:Google #yqbaba #3335poem #keepdreaming #keeppushing #giveitall

read more
Scaling the Everest
Tenzin finally realised-
Dreams come true
Only if passion meets dedication.  Image credit:Google
#yqbaba #3335poem #keepdreaming #keeppushing #giveitall

Darshan Blon

So here's the 434 poem that ends with "It's not over yet"!! #434poem #yqbaba #imnotdone #keepdreaming #wordoftheday #ItsNotOverYet

read more
The dreams I dreamt
With utmost beliefs
It's not over yet.  So here's the 434 poem that ends with "It's not over yet"!! 
#434poem #yqbaba #imnotdone
#keepdreaming
#wordoftheday
#itsnotoveryet

Darshan Blon

मेरे सपने मुझे दगा ना दे जाना बीच राह मुझे तन्हा ना छोड़ जाना, एक तेरे ही खातिर तो जी रहा हूँ मैं, एक तेरे ही वास्ते साँसे ले रहा हूँ मैं! हर रात मेरी आँखों में तु निसंकोच किए आराम फरमाना, कल्पना सागरमे मेरे संग तु #Dreams #Collab #yqdidi #YourQuoteAndMine #mydreams #keepdreaming #मेरेसपने #dreamsdocometrue

read more
मेरे सपने मुझे दगा ना दे जाना
बीच राह मुझे तन्हा ना छोड़ जाना, 
एक तेरे ही खातिर तो जी रहा हूँ मैं, 
एक तेरे ही वास्ते साँसे ले रहा हूँ मैं! 

हर रात मेरी आँखों में तु
निसंकोच किए आराम फरमाना, 
कल्पना सागरमे मेरे संग तु 
जी भरके गोते लगाना! 

मेरे सपने मुझे थोड़ा जी लेने दे 
अभी अभी सीखा है मैंने पंख फड़फड़ाना, 
अभी तो भरा है उडान मैंने 
अभी तो है मुझे - वो आकाश भी छूना!!  मेरे सपने मुझे दगा ना दे जाना
बीच राह मुझे तन्हा ना छोड़ जाना, 
एक तेरे ही खातिर तो जी रहा हूँ मैं, 
एक तेरे ही वास्ते साँसे ले रहा हूँ मैं! 

हर रात मेरी आँखों में तु
निसंकोच किए आराम फरमाना, 
कल्पना सागरमे मेरे संग तु
loader
Home
Explore
Events
Notification
Profile