वो पीठ फेर के चल दिए, मुड़ के मैंने देखा भी नहीं.. | हिंदी Shayari

"वो पीठ फेर के चल दिए, मुड़ के मैंने देखा भी नहीं... जुदाई का कोई शौक़ नहीं, पर मिलने की रेखा भी नहीं... ©drVats"

वो पीठ फेर के चल दिए,
मुड़ के मैंने देखा भी नहीं...
जुदाई का कोई शौक़ नहीं,
पर मिलने की रेखा भी नहीं...
                                ©drVats

वो पीठ फेर के चल दिए, मुड़ के मैंने देखा भी नहीं... जुदाई का कोई शौक़ नहीं, पर मिलने की रेखा भी नहीं... ©drVats

जुदाई
#Nojoto #Nojotohindi #Kismat #Sapna #Dil #Rekha #SAD #Shayari #Poetry #Love #NojotoWODhindiquotestatic
#NojotoWODquotestatic
#Nojotohindiwodquotestatic
#Emotionalhindiquotestatic

People who shared love close

More like this