prerna singh

prerna singh Lives in Delhi, Delhi, India

शब्दों में एहसासों को बयां करती हूं, समझो तो अनमोल! ना समझो तो कह देना यूंही अपना वक़्त जाया करती हूं।

https://www.youtube.com/channel/UC0-mWjmrWNgcc5pUVrJoqoA

  • Popular
  • Latest
  • Repost
  • Video

""

"ज़फा मिलती है अक्सर मासूम दिल को, काश वक़्त दे जवाब उनके लिए करारा। नहीं तो हर बार की तरह लोग आगे बढ़ जाएंगे कह के हाय दिल बेचारा!!"

ज़फा मिलती है अक्सर मासूम दिल को,
काश वक़्त दे जवाब उनके लिए करारा।
नहीं तो हर बार की तरह लोग आगे बढ़ जाएंगे
कह के हाय दिल बेचारा!!

#dilbechara @Priya ☕❣️ @Arjun Pratap Singh @MONIKA SINGH @Amit Saini

59 Love

""

"ना वो सावन के झूले, ना बारिश में महके हम। मगर साथ तेरा एक, बेरौनाक में भी रंगीन हम।। प्रेरणा सिंह"

ना वो सावन के झूले,
ना बारिश में महके हम।
मगर साथ तेरा एक,
बेरौनाक में भी रंगीन हम।।

प्रेरणा सिंह

#सावन_की_कलम_से

51 Love

""

"सुंकू ए आलम देखो, बंद दीवारों में भी रंगीनियां बिखरी हैं। खुशी ढूंढी बेवजह यहां- वहां, चकाचौंध से हटी जो निगाहें तो ये तो एकांत में ही मिली।। प्रेरणा सिंह"

सुंकू ए आलम देखो,
बंद दीवारों में भी रंगीनियां बिखरी हैं।
खुशी ढूंढी बेवजह यहां- वहां,
चकाचौंध से हटी जो निगाहें
तो ये तो एकांत में ही मिली।।
प्रेरणा सिंह

#दिल

49 Love

""

"तुम्ही ध्यान, तुम्ही आरोग्य। जग कल्याण प्रभु तुम। जल समर्पित,मधु समर्पित, करो कल्याण सबका तुम।"

तुम्ही ध्यान, तुम्ही आरोग्य।
जग कल्याण प्रभु तुम।
जल समर्पित,मधु समर्पित,
करो कल्याण सबका तुम।

#Shiva

47 Love

""

"बहुत कुछ छिटक कर दूर हो गया हमसे, पर सीप में हंसी बंद कर रखते हैं हम। चारों तरफ दलदल भी हो तो क्या, कमल सा खिल जाने का हल ढूंढते हैं हम।"

बहुत कुछ छिटक कर दूर हो गया हमसे,
पर सीप में हंसी बंद कर रखते हैं हम।
चारों तरफ दलदल भी हो तो क्या,
कमल सा खिल जाने का हल ढूंढते हैं हम।

#जोश

45 Love