Vipendra Singh

Vipendra Singh Lives in New Delhi, Delhi, India

A true struggler never stops trying..💪

https://www.youtube.com/c/funwithlife

  • Latest Stories
  • Popular Stories

#nojotohindi #shayri #Poetry #Love #truelove Satyaprem Internet Jockey Dalchand Manoj Uapdhyay raaj choudhary

27 Love
0 Comment

Vipendra Singh's Stories in 2018
#Throwback2018

Vipendra Singh की कहानियाँ 2018 में
#लम्हें2018 #Nojoto2018

11 Love
0 Comment
9 Views
1 Share
@सत्यकथा@ #NojotoQuote

सत्यकथा
इश्क़ का रोग बहुत खराब है,
जिसके मिलने के सारे रास्ते बंद हो गए हैं,
आज भी उसके मिलने की आस न जाने क्यों पीछा ही नहीं छोड़ती है ।
कई साल हो गए जब से उसने तोड़ा है आज तक जुड़ नही पाया,
आधा अधूरा गुमनाम राही मचलता रहता हूँ
बातें करना बहुत पसंद है पर किस से करें,

"कोई तो हो जो दिल के उजड़ने का गम करे,
कोई उदासियों का खरीददार तो मिले,
हम दिल को बेचते हैं कोई दिलदार तो मिले।"
न रस्ता है न मंज़िल है कोई,
न दरिया न साहिल है कोई,
शौक दिल का मिटायें तो मिटायें कैसे,
इश्क़ की आग बुझायें तो बुझायें कैसे,
क्या कोई ऐसी लड़की भी होती है यारों,
पहले तो हर खत में "सिर्फ तुम्हारी सनम" लिख कर भेजा करती थी,
मेरी खातिर वो औरों से लड़ा करती थी,
एकटक जब भी गुजरता था उसकी राहों से,
दरबाजे से मुझको तका करती थी,
बहुत सारे खत लिखे थे उसने,
मुझपे जी जान से वो मरती थी,
बड़ी अजीब लड़की थी,
कल तक तो मुझसे इतना इश्क़ किया करती थी,
मुझको भी प्यार हो गया था उस से ,
मुझको ऐतबार हो गया था उस पे,
उसके वादों को सच समझता था,
अब तो मैं भी उसी पे मरता था,
रोज जाती थी जिस गली से वो,
इंतजार रोज किया करता था,
जिस वक्त लोग सोते रहते थे ,
मैं उसका रास्ता तका करता था,
इश्क़ की कहानी बड़ चली थी कुछ ,
गली मोहल्ले में कुछ शोर हुआ,
दिल बेचारा नादान परिंदे सा,
जाने अनजाने में कुछ और हुआ,
एक दर्द लेकर मुस्कुराने की कोशिश में ही लगा रहता हूं,
दर्द कितना भी हो पर किसी से न कहता हूं ,
सुन ना चाहते हो मुझे तो लो सुन लो,
चंद लफ़्ज़ों में आज अपने दिल की कहता हूं,
बेखबर मैं उसकी अजीव बातों से हो गया कल जो मेरा था आज किसी ओर का हो गया,
मैंने पूछा बता तो तू मेरी खता
हँसके बोली, ये कोई इश्क़ न था,
मैंने पूछा क्यों मुझको फिर बर्बाद किया,
अच्छा खासा था क्यों मुझको यूँ नाशाद किया,
क्यों लगाई है मेरी दुनिया में आग तूने,
क्यों मेरे दिल यूँ खिलबाड़ किया,
हँसके बोली छोड़ो हुआ सब नादानी में,
पहले बच्ची थी भूल हुई, अब न होगी अब आगयी मैं जवानी में,
मैंने पूछा क्या हुआ उन वादों का,
साथ बिताए वो पल तुम्हारे उन इरादों का,
और कुछ कह न सकी गुस्सा हो गयी और भी,
मुझसे बोली कि अब कभी न बात करना मुझसे,,,
और इस बात को हो 10 साल गए,
आज भी दिल मेरा तड़पता है,
आज भी इंतजार है उसका,
2004 से प्यार था उस से,
खुद से ज्यादा ऐतबार था उसपे,
दे गई धोखा भरी जवानी में,
दर्द ही दर्द रह गया है ज़िंदगानी में,
और कुछ है नहीं बताने को, आज सब लिख दिया सुनाने को ।
इतनी सी प्यार की कहानी है,
कृष्ण तो मस्त है इश्क़ में उसके,
जाने क्यों राधा ही अनजानी है ।
©विपेन्द्र सिंह
सत्यकथा Satyaprem Mukesh Poonia Internet Jockey @j_$tyle Anushka Verma

12 Love
0 Comment
सोहनी सोहनी तेरी इन आँखों में खो जाऊँ प्रिये,

तू कह दे मैं तेरी हुँ, सब तुझपे ही लुटा जाऊँ प्रिये,

लम्बी लम्बी इन तेरी जुल्फों ने उलझा जाऊँ प्रिये,

मौका दे गोद में सर रख इनको में सुलझाऊँ प्रिये ,

आ सर्वस्व तेरा हो जाऊँ प्रिये ।

 #NojotoQuote

प्रिये
#सच्चाप्यार #नोजोतो
#nojotohindi Akashi Parmar Vaishali SINGH Aadarsha singh Madhavi Choudhary Namita Writer

22 Love
2 Comment
तेरा जाना और मेरा शायर हो जाना,
बहुत खूब इत्तेफाक से गुजरी है ज़िन्दगी,

एक तजुर्बा गुजरा है,
कई तजुर्बों की खातिर ।।

©विपेन्द्र सिंह #NojotoQuote

#nojotohindi #truelove #shayri #New Satyaprem Internet Jockey Kalakaksh Harshita Wadhwani Akshita Jangid(poetess)

19 Love
2 Comment