pragati tiwari

pragati tiwari

  • Popular
  • Latest
  • Repost
  • Video

""

"हम तेरा प्यार पाएं ऐसी क़िस्मत कहां, हम तेरे दिल को भाएं ऐसी क़िस्मत कहां। ग़ैर ही काफ़ी हैं तेरी महफ़िले लुत्फ़ को, हम तेरी महफ़िल में आएं ऐसी क़िस्मत कहां। वक़्त के झोकों ने तुझे दूर तो कर दिया, अब तुझको क़रीब लाएं ऐसी क़िस्मत कहां। तू रास्तों में पत्थर के टुकड़े बिखेरे जाए, हम उनसे ठोकर ना खाएं ऐसी क़िस्मत कहां। बिना सितम ढाए मेरी ज़िन्दगी पर दोस्त, ग़मे साए गुज़र जाएं ऐसी क़िस्मत कहां। ग़मे दरिया में सिसकती हैं मेरी आरज़ू, उन पर बहार छाएं ऐसी क़िस्मत कहां। pragati"

हम तेरा प्यार पाएं ऐसी क़िस्मत कहां,
हम तेरे दिल को भाएं ऐसी क़िस्मत कहां।

ग़ैर ही काफ़ी हैं तेरी महफ़िले लुत्फ़ को,
हम तेरी महफ़िल में आएं ऐसी क़िस्मत कहां।

वक़्त के झोकों ने तुझे दूर तो कर दिया,
अब तुझको क़रीब लाएं ऐसी क़िस्मत कहां।

तू रास्तों में पत्थर के टुकड़े बिखेरे जाए,
हम उनसे ठोकर ना खाएं ऐसी क़िस्मत कहां।

बिना सितम ढाए मेरी ज़िन्दगी पर दोस्त,
ग़मे साए गुज़र जाएं ऐसी क़िस्मत कहां।

ग़मे दरिया में सिसकती हैं मेरी आरज़ू,
उन पर बहार छाएं ऐसी क़िस्मत कहां।
pragati

 

129 Love

""

"जरूरी नही कुछ तोडने के लिये पथ्थर ही मारा जाए । लहजा बदल के बोलने से भी बहोत कुछ टूट जाता है ।।"

जरूरी नही कुछ तोडने के लिये पथ्थर ही मारा जाए ।
लहजा बदल के बोलने से भी बहोत कुछ टूट जाता है ।।

 

126 Love

""

"दिल में जो दर्द है उसकी आवाज नहीं आती लबों पे तुमसे मिलने की फ़रियाद नहीं आती, जबसे सिखा दिया तुमने जिंदगी जीने का अंदाज हमें आँख भर तो जाती है मगर बह नहीं पाती। pragati"

दिल में जो दर्द है उसकी आवाज नहीं आती
लबों पे तुमसे मिलने की फ़रियाद नहीं आती,
जबसे सिखा दिया तुमने जिंदगी जीने का अंदाज हमें
आँख भर तो जाती है मगर बह नहीं पाती।
pragati

 

122 Love

""

"दिल हम भी रखते है, बुरा हमे भी लगता है, लेकिन मजाल है कभी हमने उनसे उनकी तरह बात‌ की हो। ❤ pragati"

दिल हम भी रखते है,                    
बुरा हमे भी लगता है,                     
लेकिन मजाल है कभी हमने उनसे उनकी 
तरह  बात‌ की हो। ❤               
pragati

 

117 Love

""

"टूटता है तो बहुत चुभता है साहब क्या कांच ,क्या ख्वाब , क्या रिश्ता, क्या दिल...! pragati"

टूटता है तो बहुत चुभता है साहब
 क्या कांच ,क्या  ख्वाब ,
क्या रिश्ता, क्या दिल...!
pragati

 

112 Love
1 Share