Pradeep Kalra

Pradeep Kalra Lives in Udaipur, Rajasthan, India

Poet, Shayer by Hobby and Handicraft Exporter by Profession

www.rukmaniarts.com

  • Popular
  • Latest
  • Video

तन्हाइयों के आलम में, ख़ुद को न फसाँ लेना,
इश्क़ के सिवा भी, वजह कई है जीने के लिए,
नज़रे उठाकर देखोगे, सब चाहने वाले मिलेंगे,
इश्क़े ज़हर के सिवा, बहुत कुछ है पीने के लिए...

Pradeep Kalra - 13/07/19

47 Love
509 Views
4 Share

न मैं हिन्दू न तू मुसलमां,
मैं भी इन्सां तू भी इन्सां,
राम रहीम का मेल करादे,
न मैं परेशां न तू परेशां...

Pradeep Kalra - 6/7/19

42 Love
285 Views

#Emotional
ग़ज़ल और शेर

39 Love
369 Views

""

"बहुत दिया है दियों ने हँसकर, त्याग का इनमे बसेरा है, रोशन किया जग को जलकर, और ख़ुद तले ही अंधेरा है..."

बहुत दिया है दियों ने हँसकर, 
त्याग का इनमे बसेरा है,
रोशन किया जग को जलकर, 
और ख़ुद तले ही अंधेरा है...

बहुत दिया है दियों ने हँसकर,
त्याग का इनमे बसेरा है,
रोशन किया जग को जलकर,
और ख़ुद तले ही अंधेरा है...

Pradeep Kalra - 11/11/18

36 Love

शायर हूँ मैं, फ़र्ज़ अपना निभा रहा हूं,
इश्क़ से नज़्म को अपनी, सज़ा रहा हूँ,
पढ़ता हूँ मोहब्बत, मोहब्बत पढ़ा रहा हूँ,
बुझे ज़माने में दिया इश्क़ का जला रहा हूँ...

Pradeep Kalra - 13/07/19

35 Love
234 Views