Nojoto: Largest Storytelling Platform
lalitsaxena2928
  • 1.2KStories
  • 1.2LacFollowers
  • 81.5KLove
    85.4LacViews

Lalit Saxena

दिल की अनुभूतियों को कोशिश की है शब्दो में पिरोने की,एक चाहत है उसकी सुरभि से आपके अंतर्मन को भिगोने की। Life isn't always easy — nor do we expect it to be — but when you bring a few laughs into your day, things get a little easier. My oth expertise in Painting, writing, vaastu expert,astral experts,palmist reiki grand master and astrology its just my hobby I m official certified consultant nd retired from Govt sector as an sr. Executive.

  • Popular
  • Latest
  • Repost
  • Video
7d9bf9ca90e0dd6be2d33eb23a8ff219

Lalit Saxena

लफ्ज़ जाया हो गए सारे
अल्फाजों को भी रद्द कर दिया गया
हम अहमियत ही देते रह गए और
लोग दर किनरा कर निकल गए

©Lalit Saxena
7d9bf9ca90e0dd6be2d33eb23a8ff219

Lalit Saxena


नज़र लगती है 
तो लग जाए,
हम तो नजर भर के 
देखेंगे आपको..!!

©Lalit Saxena
7d9bf9ca90e0dd6be2d33eb23a8ff219

Lalit Saxena

White रक्त के चंद करते
टाल देते है बड़े खतरे

©Lalit Saxena
  #Blood
7d9bf9ca90e0dd6be2d33eb23a8ff219

Lalit Saxena

हिसाब बराबर का हुआ चलो कोई गम नही
तुम्हारे पास हम नही, हमारे पास तुम नही

©Lalit Saxena
  #love_shayari
7d9bf9ca90e0dd6be2d33eb23a8ff219

Lalit Saxena

White ख़ामोश लब हैं झुकी हैं पलकें, दिलों में उल्फ़त नई-नई है,
अभी तक़ल्लुफ़ है गुफ़्तगू में, अभी मोहब्बत नई-नई है।

अभी न आएँगी नींद तुमको, अभी न हमको सुकूँ मिलेगा
अभी तो धड़केगा दिल ज़ियादा, अभी मुहब्बत नई नई है।
ज़रा सा क़ुदरत ने क्या नवाज़ा के आके बैठे हो पहली सफ़ में
अभी क्यों उड़ने लगे हवा में अभी तो शोहरत नई नई है।

जो खानदानी रईस हैं वो मिज़ाज रखते हैं नर्म अपना,
तुम्हारा लहजा बता रहा है, तुम्हारी दौलत नई-नई है।

©Lalit Saxena
  #love_shayari
7d9bf9ca90e0dd6be2d33eb23a8ff219

Lalit Saxena

उतर ही आते है
कलम के सहारे
कागज पर
तेरे ख्याल
कमबख्त बहुत
जिद्दी है

©Lalit Saxena
  #Ind_vs_pak
7d9bf9ca90e0dd6be2d33eb23a8ff219

Lalit Saxena

हर रिश्ते में एतबार जरूरी है
कभी जीत तो कभी हार जरूरी है
यूं ही नही बनते इश्क के फसाने
कभी इनकार तो कभी इजहार जरूरी है
ख्वाहिशों के घर में अंजाने शहर में
कभी कभी कुछ ठहराव जरूरी है
अगर महसूस हो तो इतना समझ लेना
खामोशियों में भी तकरार जरूरी है
ये जिंदगी है हमारी कोई जंगल तो नही
साथ चलने के एक हमसफर जरूरी है

©Lalit Saxena
7d9bf9ca90e0dd6be2d33eb23a8ff219

Lalit Saxena



फिर  कोई  नया  ज़ख़्म ईज़ाद करो
टुट के चाहा है तुम्हें न बे - दाद करो

हमा - तन  सुलग रहा है हिज़्र में तेरे
मिल कर नाशाद दिल को शाद करो

इस दिले - दर्द तलातुम के ख़ूग़र हम
बस  शिद्दत से खुदाया तुम याद करो

कुछ लुफ़्त -ए- क़रम दिल पर भी हो
हम असीर-ए- जुल्फ़ न आज़ाद करो

यु तालिबो पे न कत्ल का इल्ज़ाम दो
आप क़ातिल फिर क्यू फरियाद करो

जीना नहीं साकी पिला ज़हराब कोई
जिंदगी सज़ा है मौत की इम्दाद करो

मेरे उजालों को ज़ब्त किया अंधेरों ने
'मीर'कोई इसतन्हाई को आबाद करो

©Lalit Saxena
7d9bf9ca90e0dd6be2d33eb23a8ff219

Lalit Saxena

वाजिब है तुम्हारा मुझे ना समझ पाना ,,💔
मैं अल्फ़ाजों और एहसासों से आगे की बात हू

©Lalit Saxena
7d9bf9ca90e0dd6be2d33eb23a8ff219

Lalit Saxena

तुझे  पाए 
 बगैर कितनी 
मोहब्बत की 
मैने तुमसे
जो मुक्कमल
 तू मेरा होता 
तो क्या होता

©Lalit Saxena
loader
Home
Explore
Events
Notification
Profile