Maya

Maya Lives in Delhi, Delhi, India

follow on insta mayamano1900

  • Popular
  • Latest
  • Repost
  • Video

"#NojotoVideo #NojotoVoice"

#NojotoVideo #NojotoVoice

ye lat
#nojotovideo

291 Love
3.4K Views
33 Share

""

"काश वफ़ा का गर होता कोई पैमाना तो गलियां इश्क की यूँ बदनाम न होती न पड़ता समां को यूँ जलकर पिघलना न परवाने को यूँ जलकर मिटने की चाहत होती"

काश वफ़ा का गर होता कोई पैमाना 
तो गलियां इश्क की यूँ बदनाम न होती 
न पड़ता समां को यूँ जलकर पिघलना 
न परवाने को यूँ जलकर मिटने की चाहत होती

nojoto Maya 'shayari
# wapha

194 Love
8 Share

""

"वफ़ा क्या है जानना है तो झाँक कर देखो मज़ार के बाहर बैठे उस आशिक की आखों में जो हर रोज इसी उम्मीद से खुलती है कि उसकी रुख्सती हो तो सिर्फ सनम की बाहों में"

वफ़ा क्या है जानना है तो झाँक कर देखो 
मज़ार के बाहर बैठे उस आशिक की आखों में 
जो हर रोज इसी उम्मीद से खुलती है कि 
उसकी रुख्सती हो तो सिर्फ सनम की  बाहों में

Nojoto Maya'Shayari

181 Love
8 Share

""

"इन्तहा तो देखो उसके इश्क की वो तुम्हें अपनी दुनिया बना बैठा गुमनाम है वो अपनों में कहीं पर इस दुनिया में बदनाम हुआ बैठा"

इन्तहा तो देखो उसके इश्क की 
वो तुम्हें अपनी दुनिया बना बैठा 
गुमनाम है वो अपनों में कहीं 
पर इस दुनिया में बदनाम हुआ बैठा

Nojoto Maya 'shayari # he koi

171 Love
6 Share

""

"साजिशें तो अपनों की थी, हम आंखें गैरों को दिखाते रहे नुमाइश तो उन्होंने की, हम तो महफिल उनकी सजाते रहे वो तो आये ही थे खरीद फरोख्त करने हम ही लगाकर अर्ज़ी, खुद ही खुद की बोली लगाते रहे"

साजिशें तो अपनों की थी, हम आंखें गैरों को दिखाते रहे 
नुमाइश तो उन्होंने की, हम तो  महफिल उनकी सजाते रहे 
वो तो आये ही  थे खरीद फरोख्त करने 
हम ही लगाकर अर्ज़ी,  खुद ही खुद की बोली लगाते रहे

Nojoto Maya' shayari # boli

169 Love
1 Share