Nikita Garg

Nikita Garg

I like drawing and quotes write ✍️ I am college student my hobbies traveling, drawing, music leasning i belong to haryana my insta id its_nikitagarg

https://nikitagargshayri.blogspot.com/2022/10/biography-nikita-garg.html

  • Latest
  • Popular
  • Video
#कविता #ThomsoOpenMic #Nojoto2liner #nojotohindi #DUSHERRA #poem  दशहरा बुराई पर अच्छाई की जीत का त्योहार है रावण बुद्धिमान  बहुत था लेकिन  राम भगवान  कि अच्छाई पर  रावण कि बुद्धि  कुछ  काम नहीं आई जीत अच्छाई की हुई इसलिए अच्छाई का होना ज़रूरी है अगर बुराई रहेगी बुद्धि होने का फायदा नहीं है इसलिए  बुराई की जीत पर अच्छाई का त्योहार  दशहरा  बनाया जाता है ।
 सभी को मेरी तरफ से  दशहरे की शुभकामनायें।

©Nikita Garg
#ज़िन्दगी #nojotohindi #Jindagi #shayri #Song

जिंदगी तुम्हारी है फैसला भी #Jindagi #nojotohindi #shayri #Song @gudiya @R Ojha @udass Afzal Khan @Sana Binte Zamaan @Adhury Hayat @pinky masrani

129 View

आपने कोई भी रास्ता चुना है और आप उस रास्ते के बीच में हार मान लेते है। तब वापस जाने में उतना ही समय लगेगा जितना की आप उस रास्ते को पूरा करने में समय लेगें । हार मानने से अच्छा उसी रास्त में आगे बड़े । ©Nikita Garg

#शायरी #nojotoshayari #shayri #diary #rasta  आपने कोई भी रास्ता चुना है और आप उस रास्ते के बीच में हार मान लेते है।
तब वापस जाने में उतना ही
समय लगेगा जितना की आप
उस रास्ते को पूरा करने में समय
लेगें ।
हार मानने से अच्छा उसी रास्त
में आगे बड़े ।

©Nikita Garg

उसकी हर बात में मेरे सवालों का हर जवाब मिल जाता था । उसकी हर बात में उसका दुख-सुख नज़र आ जाता था । ©Nikita Garg

#शायरी #nojotoshayari #hindi_shayari  उसकी हर बात में मेरे सवालों का  हर जवाब मिल जाता था ।
उसकी हर बात में  उसका  दुख-सुख 
नज़र आ जाता था ।

©Nikita Garg
#विचार  लाख कोशिशें कर लो मगर जिंदगी में अपने लक्ष्य के लिए  कभी हार मत मानना ।

©Nikita Garg

अंधेरा मिटता नहीं! मिटाना पडता है! बुझे चिराग को फिर से जलाना पड़ता है। अंधेरा मिटाना के लिए नज़रिया बदलना पड़ेगा। बस नज़रिया बदल दो बुझा चिराग फिर से जल जाएगा। ©Nikita Garg

#शायरी #IFPWriting  अंधेरा मिटता नहीं!  मिटाना पडता है!
बुझे चिराग को फिर से जलाना पड़ता है।
अंधेरा मिटाना के लिए नज़रिया बदलना पड़ेगा। 
बस नज़रिया बदल दो  बुझा चिराग फिर से जल जाएगा।

©Nikita Garg
Trending Topic