Saurav Tiwari

Saurav Tiwari Lives in Bodhgaya, Bihar, India

खोया हुँ कहीं शून्य में खुद को तलाश रहा हूँ, बन के मैं पाशान खुद को हीं तराश रहा हूँ। Instagram- saurav_tiwari3 1st January 🎂🎂🎂

http://www.youtube.com/channel/UCfUOEBguIxZyyAjEV7lZXog

  • Popular Stories
  • Latest Stories

"मोहब्बत है क्या चीज़ मोहब्बत है क्या चीज़ कोई हमे भी तो बताये, सुना है बड़े बड़े हार जाते हैं इसमें जिंदगी की बाजी, जरा हमे भी इस खेल में कोई तो आजमाए। लूट जाती है हर ख़ुशी छीन जाता है चैन, कोई हमसे हमी को चुरा कर तो बताये। मोहब्बत है क्या चीज़ कोई हमे भी तो बताये।।"

मोहब्बत है क्या चीज़ मोहब्बत है क्या चीज़ कोई हमे भी तो बताये,
सुना है बड़े बड़े हार जाते हैं इसमें जिंदगी की बाजी,
जरा हमे भी इस खेल में कोई तो आजमाए।
लूट जाती है हर ख़ुशी छीन जाता है चैन, कोई हमसे हमी को चुरा कर तो बताये।
मोहब्बत है क्या चीज़ कोई हमे भी तो बताये।।

#मोहब्बत है क्या चीज
#MohabbatHaiKyaChij
#shayri

114 Love
1 Share

"तेरा इंतज़ार तुम्हे मालूम नही मैं तुमसे कितना प्यार कर रहा हूँ, बाकि सब कुछ भुला दिया मैंने तुमपे इस कदर मर रहा हूँ। साँसे थम गई आँख फिर भी खुली है, तेरी आखिरी दीदार के लिए तेरा इंतजार कर रहा हूँ।।"

तेरा इंतज़ार तुम्हे मालूम नही मैं तुमसे कितना प्यार कर रहा हूँ,
बाकि सब कुछ भुला दिया मैंने तुमपे इस कदर मर रहा हूँ।
साँसे थम गई आँख फिर भी खुली है,
तेरी आखिरी दीदार के लिए तेरा इंतजार कर रहा हूँ।।

#Shayari #TeraIntejar #तेरा इंतजार

111 Love

"अपने जब पराये हो जाते हैं, उससे क्या शिकवा करूँ जो वक्त की दोस्ती निभाते हैं। गैरों की मैं क्या बात करूँ,यहां अपने जब पराये हो जाते हैं।।"

अपने जब पराये हो जाते हैं,  उससे क्या शिकवा करूँ जो वक्त की दोस्ती निभाते हैं।
गैरों की मैं क्या बात करूँ,यहां अपने जब पराये हो जाते हैं।।

#Apne Jab paraye ho jate hai
#अपने जब पराये हो जाते हैं

97 Love

"आखिरी फैसला मेरी वफ़ा का तुमने दिया अच्छा सिला, फिर भी नही है हमे तुमसे कोई गिला । अब तुम जाना चाहती हो तो बेशक जाओ, जब यही है तुम्हारा आखिरी फैसला।।"

आखिरी फैसला मेरी वफ़ा का तुमने दिया अच्छा सिला,
फिर भी नही है हमे तुमसे कोई गिला ।
अब तुम जाना चाहती हो तो बेशक जाओ,
जब यही है तुम्हारा आखिरी फैसला।।

#AkhiriFaisla
#आखिरीफैसला

95 Love

"लड़ रहा हूँ दुनिया से संघर्ष है उसको पाने की, सारी रात मैं इसलिए हूँ जगता की वो कोशिश ना करे मुझे भटकाने की, वो मिलती नही आसानी से आदत है उसको तड़पाने की, अब चाहे कितनी भी कर ले वो जद्दो-जहद, पर मेरी भी जिद्द है सिर्फ और सिर्फ सरकारी नौकरी पाने की।।"

लड़ रहा हूँ दुनिया से संघर्ष है उसको पाने की,
सारी रात मैं इसलिए हूँ जगता की वो कोशिश ना करे मुझे भटकाने की,
वो मिलती नही आसानी से आदत है उसको तड़पाने की,
अब चाहे कितनी भी कर ले वो जद्दो-जहद,
पर मेरी भी जिद्द है सिर्फ और सिर्फ सरकारी नौकरी पाने की।।

#Shangharsh #संघर्ष #shayri

94 Love
1 Share