tags

Best Delhi_Riots Shayari, Status, Quotes, Stories, Poem

Find the Best Delhi_Riots Shayari, Status, Quotes from top creators only on Nojoto App. Also find trending photos & videos.

  • 825 Followers
  • 1136 Stories
  • Popular
  • Latest
  • Video

""

"जो बच गया अंग्रेजों के हाथो भ्रष्ट नेताओ के हाथो मारा जाएगा"

जो बच गया अंग्रेजों के हाथो
भ्रष्ट नेताओ के हाथो मारा जाएगा

#Delhi_Riots

280 Love

""

"कहीं राम नाम का जाप है, कहीं अल्लाह की अज़ान है जो इन दोनों को अलग समझें, वो अज्ञान है - Swechha"

कहीं राम नाम का जाप है, कहीं अल्लाह की अज़ान है 
जो इन दोनों को अलग समझें, वो अज्ञान है
- Swechha

जो इन दोनों को अलग समझें, वो अज्ञान है
#26Feb #DelhiBurning #Delhi_Riots

232 Love
1 Share

""

"आबरू बचाएं खुद की या जान खतरे में है तिरंगा और मुकम्मल हिन्दुस्तान"

आबरू बचाएं खुद की या जान
खतरे में है तिरंगा
और मुकम्मल हिन्दुस्तान

#Delhi_Riots

209 Love
1 Share

#Delhi_Riots #nojoto #nojotohindi #Motivational

195 Love
1.9K Views
1 Share

""

"आज जो लोग धर्म के नाम पे सड़कों पे उतर रहे हैं और खौफ की झूठी सियासत के ज़रिए कानून को हाथ में लेके सड़कों पे बर्बादी का भयावह मंज़र दिखा रहे हैं उन्हें अपनी करनी का हिसाब कानून से पहले खुद की अंतरात्मा को देना होगा । किसी निर्दोष इंसान की जान लेकर, उनके घर जला कर ,उपद्रव फैला कर हम अपने देश को कहां ले जाकर छोड़ेंगे? धर्म का इस्तेमाल इंसानों को जोड़ने के लिए ,जीने के सलीखे सीखने के लिए होता है। तुमने गीता पढ़ी तो क्या श्री कृष्ण के ये वचन नहीं पढ़े "नर्क के तीन द्वार हैं: वासना, क्रोध और लालच", और द्वेष की भावना से किया गया हर काम तुमने कुरान शरीफ पढ़ी तो क्या अल्लाह की आयतों में सब्र, इंसानियत और मोहब्बत की नेमतों को देखा? असलियत तो ये है तुमने धर्म को समझा ही नहीं ,तुमने सियासतदारों को अपना भगवान/खुदा समझ लिया और जाहिल मानसिकता ने तुम्हारे सोचने की शक्ति वैसे ही कमजोर कर दी इसलिए आज शांति के पैगाम को दरकिनार कर सिर्फ अपने स्वार्थ,द्वेष के लिए इस्तेमाल हो रहे हो या इस्तेमाल कर रहे हो । वक़्त रहते हमें समाज में ऐसे लोगों का मिलके बहिष्कार करना होगा क्योंकि नफरत में टूटे घरों को जोड़ लेंगे हम लेकिन टूटे दिल कैसे जोड़ेंगे ? सोचिए बहुत संवेदनशील बात है,ये सब जो हो रहा है देख के दिल बहुत दुख रहा है ,हमारे देश को हम जैसी अवाम की जरूरत है!😞"

आज जो लोग धर्म के नाम पे सड़कों पे उतर रहे हैं और खौफ की झूठी सियासत के ज़रिए कानून को हाथ में लेके सड़कों पे बर्बादी का भयावह  मंज़र दिखा रहे हैं उन्हें अपनी करनी का हिसाब कानून से पहले खुद की अंतरात्मा को देना होगा ।
किसी निर्दोष इंसान की जान लेकर, उनके घर जला कर ,उपद्रव फैला कर हम अपने देश को कहां ले जाकर छोड़ेंगे? धर्म का इस्तेमाल इंसानों को जोड़ने के लिए ,जीने के सलीखे सीखने के लिए होता है।

तुमने गीता पढ़ी तो क्या श्री कृष्ण के ये वचन नहीं पढ़े "नर्क के तीन द्वार हैं: वासना, क्रोध और लालच",
और द्वेष की भावना से किया गया हर काम

तुमने कुरान शरीफ पढ़ी तो क्या अल्लाह की आयतों में सब्र, इंसानियत और मोहब्बत की नेमतों को देखा?

असलियत तो ये है तुमने धर्म को समझा ही नहीं ,तुमने सियासतदारों को अपना भगवान/खुदा समझ लिया और जाहिल मानसिकता ने तुम्हारे सोचने की शक्ति वैसे ही कमजोर कर दी इसलिए आज शांति के पैगाम को दरकिनार कर सिर्फ अपने स्वार्थ,द्वेष के लिए इस्तेमाल हो रहे हो या इस्तेमाल कर रहे हो ।
वक़्त रहते हमें समाज में ऐसे लोगों का मिलके बहिष्कार करना होगा क्योंकि नफरत में टूटे घरों को जोड़ लेंगे हम लेकिन टूटे दिल कैसे जोड़ेंगे ? सोचिए बहुत संवेदनशील बात है,ये सब जो हो रहा है देख के दिल बहुत दुख रहा है ,हमारे देश को हम जैसी अवाम की जरूरत है!😞

#Delhi_Riots #Religion #peace #harmony #जागो #इंसानियत #क्रोध #दुख @Khwab @Unzila Farooq @Khan Perfect @Er Ashish vishwakarma @Inner Voice @Arfa

169 Love