Nilofar Farooqui Tauseef Writer

Nilofar Farooqui Tauseef Writer Lives in Mumbai, Maharashtra, India

Follow me on insta id: writernilofar Hobby : Writing poems, ghazals, script इन आंखों ने फिर कोई नज़ारा नही देखा तुझे देखा जो एक बार फिर दुबारा नही देखा

https://m.facebook.com/WriterNilofar-104343201059435/?ref=bookmarks

  • Popular Stories
  • Latest Stories

"ख़्वाब और ख़्याल अपने अंदर का शोर मजबूर कर देता है बाहर से खामोश रहने पर।"

ख़्वाब और ख़्याल अपने अंदर का शोर 
मजबूर कर देता है
बाहर से खामोश रहने पर।

#nojoto #nojotoapps #nilofarlove #Love #Life

37 Love
2 Share

"अधूरा प्रेम इस दुनिया में, किसका प्रेम पूरा हुआ है जिसने किया है, सच्चा इश्क़ अधूरा हुआ है"

अधूरा प्रेम इस दुनिया में, किसका प्रेम पूरा हुआ है
जिसने किया है, सच्चा इश्क़ अधूरा हुआ है

#Love #nojoto #nilofarlove #Life #longlife #alfaz #shayeri

34 Love
2 Share

"तेरे नाम का व्रत तेरे नाम का व्रत रखूं, तू मेरी वफ़ा रखना मैं सिंदूर की लाज रखूँ, तुम मेरी अदा रखना किसने देखा सात जन्म, एक ही जन्म तू सारा प्यार कर, मैं तुझपे जान निसार करूँ, तू मुझपे जान निसार कर"

तेरे नाम का व्रत तेरे नाम का व्रत रखूं, तू मेरी वफ़ा रखना
मैं सिंदूर की लाज रखूँ, तुम मेरी अदा रखना

किसने देखा सात जन्म, एक ही जन्म तू सारा प्यार कर,
मैं तुझपे जान निसार करूँ, तू मुझपे जान निसार कर

#व्रत #nilofarlove #Love #poem

32 Love
2 Share

"#WorldPostDay, चिट्ठी न कोई सन्देश, अब लौट के आओ अपने देश। बंजारा बन के और घूमो न कोई देश अब लौट आओ अपने देश तुम्हे ये देश बुलाते हैं... माँ की दुआ पुकारती है बहनों की राखी बुलाती है अब रहो न तुम परदेस तुम्हे ये देश बुलाते है। पत्नी की सिंदूर सुनी सी है बच्चों की किलकारी अधूरी सी है अब रहो न तुम परदेस तुम्हे ये देश बुलाते है।"

#WorldPostDay, चिट्ठी न कोई सन्देश, अब लौट के आओ अपने देश।
बंजारा बन के और घूमो न कोई देश
अब लौट आओ अपने देश
तुम्हे ये देश बुलाते हैं...
माँ की दुआ पुकारती है
बहनों की राखी बुलाती है
अब रहो न तुम परदेस
तुम्हे ये देश बुलाते है।
पत्नी की सिंदूर सुनी सी है
बच्चों की किलकारी अधूरी सी है
अब रहो न तुम परदेस
तुम्हे ये देश बुलाते है।

#worldpostday #nojoto #nilofarlove #Country #Hindi #Desh

32 Love
2 Share

"देखा एक ख़्वाब, जो ख्वाब ही रह गया। न मिला कोई जवाब, अधूरा जवाब ही रह गया हक़ीक़त की बुनियाद भला कहाँ से लाते करना था हिसाब-ए-इश्क़ वो हिसाब ही रह गया"

देखा एक ख़्वाब, जो ख्वाब ही रह गया।
न मिला कोई जवाब, अधूरा जवाब ही रह गया
हक़ीक़त की बुनियाद भला कहाँ से लाते
करना था हिसाब-ए-इश्क़ वो हिसाब ही रह गया

#देखाएकखवाब #नोजोतो #nojoto #nilofarlove

29 Love
4 Share