Archana Deshpande-Pol

Archana Deshpande-Pol

  • Popular Stories
  • Latest Stories

"हर वो लफ्ज.. दिलको छू गया.. उन लफ्जोंकी अहमियत.. बेजुबाँन कैसे बताए.. हर वो लम्हा खुशीयोंका.. उमंगे भरता गया.. उन पलोंकी अहमियत.. दुखियारा कैसे जताए.. रंगो भरा खिलखिलाता नजारा.. आँखोको सुकून दे गया.. उन हँसीन रंगोकी अहमियत.. अंधियारेको कैसे समझाए.. दबे पाँव आकर.. दे गये है जो घाँव.. उस दर्द की सिसकिया.. उम्मीदे किससे जताए.. अपनेही जब हो गये पराए.. दिल के जख्म गेहरे.. अहमियत अपनेपन की.. गैरोंको क्या बताए.."

हर वो लफ्ज..
दिलको छू गया..
उन लफ्जोंकी अहमियत..
बेजुबाँन कैसे बताए..

हर वो लम्हा खुशीयोंका..
उमंगे भरता गया..
उन पलोंकी अहमियत..
दुखियारा कैसे जताए..

रंगो भरा खिलखिलाता नजारा..
आँखोको सुकून दे गया..
उन हँसीन रंगोकी अहमियत..
अंधियारेको कैसे समझाए..

दबे पाँव आकर..
दे गये है जो घाँव..
उस दर्द की सिसकिया..
उम्मीदे किससे जताए..

अपनेही जब हो गये पराए..
दिल के जख्म गेहरे..
अहमियत अपनेपन की..
गैरोंको क्या बताए..

अहमियत

8 Love

"तुम जब ना हमारे थे... यूँ ना प्यार.. हमसे न था.. तूम आ गये और.. जिंदगी यूँ.. हँसीन लगने लगी.. दिल्लगी क्या की तुम्हीसे.. क्या पता.. कब नजरे इतराने लगी.. मूडकर तूने देखा क्या.. सेहमी साँसे.. राँहे तकने लगी.. इस कदर छा गये हो.. दिलपर.. बेहती हवाँसे भी.. प्यार करने लगी.. ऐ जिंदगी.. अब रुक ना जाना.. साँस अभी है.. धडकने लगी.. अर्चू."

तुम जब ना हमारे थे...
यूँ ना प्यार.. हमसे न था..

तूम आ गये और..
जिंदगी यूँ.. हँसीन लगने लगी..

दिल्लगी क्या की तुम्हीसे..
क्या पता..  कब नजरे इतराने लगी..

मूडकर तूने देखा क्या..
सेहमी साँसे..  राँहे तकने लगी..

इस कदर छा गये हो.. दिलपर..
बेहती हवाँसे भी.. प्यार करने लगी..

ऐ जिंदगी.. अब रुक ना जाना..
साँस अभी है.. धडकने लगी..

अर्चू.

#जब तुम ना थे हमारे..

7 Love

"#Pehlealfaaz पुनव रातीला चांद मातला.. जीवाचा जीवलग सखा भेटला.. कृष्णसख्याची वेडी राधा.. मीरेलाही झाली बाधा.. ©अर्चू.."

#Pehlealfaaz पुनव रातीला चांद मातला..
जीवाचा जीवलग सखा भेटला..
कृष्णसख्याची वेडी राधा..
मीरेलाही झाली बाधा..

©अर्चू..

पूनवरात

7 Love

"यूँ ना बांधा करो.. तारीफोंके पूल.. कहीं.. दिल फिसल ना जाए.. ये आँखे बडी नादाँन है.. कुछ राज दिलके.. बयाँ न कर जाए.."

यूँ ना बांधा करो..
         तारीफोंके पूल..
             कहीं.. दिल फिसल ना जाए..

ये आँखे बडी नादाँन है..
                कुछ राज दिलके..
                         बयाँ न कर जाए..

#राज

6 Love

"पढ लेते थे खामोशी.. अल्फाजों से पेहेले.. संभल लेते थे.. दिल को.. बिखरने से पेहले.. यूँ ना कभी मेहसुँस हुआ.. तेरा दूर जाना.. नजदिकींओं की किमत.. अब समजने लगे है.. ©अर्चू.."

पढ लेते थे खामोशी..
           अल्फाजों से पेहेले..

संभल लेते थे.. दिल को..
              बिखरने से पेहले..

यूँ ना कभी मेहसुँस हुआ..
       तेरा दूर जाना..

नजदिकींओं की किमत..
        अब समजने लगे है..

©अर्चू..

#खामोशी

6 Love