Diwan G

Diwan G Lives in Pithoragarh, Uttarakhand, India

शब्दों से मोहब्बत है,शब्दों को संवारता हूँ। हिंदी शायर । आसमाँ नहीं मेरा,टूटा हुआ तारा हूँ। जो चमक खो चुका, मैं वो सितारा हूँ।।

  • Popular Stories
  • Latest Stories

"अजीब से हालातों से गुजर रहा हूँ, मेरे हालातों का दर्द कौन जाने। मैं सिर्फ दिल की बात कहता हूँ यारो, मेरी बातों का दर्द कौन जाने।।"

अजीब से हालातों से गुजर रहा हूँ,
मेरे हालातों का दर्द कौन जाने।
मैं सिर्फ दिल की बात कहता हूँ यारो,
मेरी बातों का दर्द कौन जाने।।

कौन जाने..?
#alonegirl #alone #nojoto

126 Love
28 Share

"#Worldsmileday अपनी खुशियों में दूसरों को, अक्सर ही शामिल कीजिए। गरीबों को भी मुस्कुराने की, थोड़ी ही सही वजह दीजिए। जितना भी दिल करे आपका, उतनी खुशी आप बाँट दीजिए। खुशियाँ तो बांटने से बढ़ती हैं, बस दिल से खुशियाँ बाँटिए। दुआऐं मिलेंगी तुमको हजार, कुछ बेबसों को हँसा दीजिए। रहमत बरसेगी खुदा की तुमपे, कुछ रहमत करके तो देखिए।।"

#Worldsmileday  अपनी खुशियों में दूसरों को,
अक्सर ही शामिल कीजिए।
गरीबों को भी मुस्कुराने की,
थोड़ी ही सही वजह दीजिए।
जितना भी दिल करे आपका,
उतनी खुशी आप बाँट दीजिए।
खुशियाँ तो बांटने से बढ़ती हैं,
बस दिल से खुशियाँ बाँटिए।
दुआऐं मिलेंगी तुमको हजार,
कुछ बेबसों को हँसा दीजिए।
रहमत बरसेगी खुदा की तुमपे,
कुछ रहमत करके तो देखिए।।

रहमत करके देखिए
#WorldSmileDay #nojoto

112 Love
13 Share

"कानून सिर्फ फैसले ही करता है, पर इंसाफ नहीं। इंसाफ तो उपरवाला करता है। वो भूलता नहीं। बदला लेना इंसान की फितरत है, पर उसकी नहीं। उपरवाला सिर्फ वही करता है। जो होता है सही। मर्जी तुम्हारी दोस्तो,जो भी करो, करना वही,जो होता है सही।।"

कानून सिर्फ फैसले ही करता है,
पर इंसाफ नहीं।
इंसाफ तो उपरवाला करता है।
वो भूलता नहीं।
बदला लेना इंसान की फितरत है,
पर उसकी नहीं।
उपरवाला सिर्फ वही करता है।
जो होता है सही।
मर्जी तुम्हारी दोस्तो,जो भी करो,
करना वही,जो होता है सही।।

उपरवाला इंसाफ करेगा।
#JusticeAndRevenge #इंसाफऔरबदला

106 Love
10 Share

"उसने जब कहा,नशा अच्छी बात नहीं है। प्यार के नशे में,हमने भी रात हसीं कर दी।"

उसने जब कहा,नशा अच्छी बात नहीं है।
प्यार के नशे में,हमने भी रात हसीं कर दी।

प्यार का नशा
#nojoto
#Hindi #Love

86 Love
5 Share

"क्या लिखूँ दोस्तो..? मैं लिखूँ भी तो किसके वास्ते। कोई पढ़ता ही नहीं, जो पढ़ता है वो समझता नहीं।।"

क्या लिखूँ दोस्तो..?
मैं लिखूँ भी तो किसके वास्ते।
कोई पढ़ता ही नहीं,
जो पढ़ता है वो समझता नहीं।।

कोई समझता नहीं।
#nojoto
#Hindi #फालतूबातें

81 Love
10 Share