Nojoto: Largest Storytelling Platform

Best majdur Shayari, Status, Quotes, Stories

Find the Best majdur Shayari, Status, Quotes from top creators only on Nojoto App. Also find trending photos & videos about majdur ki atmakatha in hindi, ham to majdur hai har gham se choor hai, hum to majdur hai, ham to majdur hai song, majdur divas kab manaya jata hai,

  • 124 Followers
  • 115 Stories

Manpreet Gurjar

#majdur #Poetry

read more

Ravi Bhushan Thakur

Sonu Kumar

#majdur ka हाल-चाल jaane PM Modi #न्यूज़

read more

sukoon

SumitGaurav2005

Kamlesh Kandpal

I_surbhiladha

HINDI SAHITYA SAGAR

#labour मजबूर है मजदूर ये, करता है मज़दूरी.. भूख से रोते भूखे बच्चे, और साथ में है पापी पेट, बस इसीलिए, मजदूरी, बड़ी जरूरी... #thought #Hindi #hindi_quotes #hindi_poetry #विचार #oneliner #majdur #Labour_Day #hindisahityasagar

read more

Krish Vj

#yqdidi #covid19 #Company #majdur #Employee (किसी को दुःख पहुँचाने के उद्देश्य से नहीं कहा , कुछ कंपनियां यही कर रहीं है अभी,कर्मचारी के हित में कुछ नहीं सब खुद के लिए )

read more
हर तरफ दर्द बेबसी और "मौत" का माहौल हैं 
फिर भी कुछ पेसे वाले लगे पैसे  कमाने को हैं 

ज़िंदगी से प्यार नहीं किसी की, प्यार पैसो से है 
कोई जिए या मरे, सरोकार तो दौलत से इनको 

तिजोरियों खाली नहीं हो बस इनकी यही सोच 
चाहे गरीब अपनी खून पसीने की पूंजी लुटा दे #yqdidi #covid19 #company #majdur #employee   

 (किसी को दुःख पहुँचाने के उद्देश्य से नहीं कहा , कुछ कंपनियां यही कर रहीं है अभी,कर्मचारी के हित में कुछ नहीं सब खुद के लिए )

Vandana

#yqdidi इन लाइनों को पढ़कर आप थोड़ा संवेदनशील हो जाएंगे और सब चीज सरकार और देश के लिए नहीं छोड़ेंगे खुद भी एक अच्छे नागरिक होने का कर्तव्य निभाएंगे अब तक अपना कीमती समय देने के लिए और इन लाइनों को पढ़ने के लिए आपका धन्यवाद 🙏🙏🙏🙏🙏 दिन भर धूप में तपता मजदूर पसीने से लथपथ जाने कितना मजबूर । दिन भर करता भारी से भारी काम दो रोटी खा ठंडा पानी पीकर करता आराम । अपने शरीर से ज्यादा से ज्यादा करता काम फिर भी उसको मिलते नहीं इतने दाम. #lifelessons #yqbhaijan #yqhindi #yqlove #majdur #yqwriters #yqlife

read more

दिन भर धूप में तपता मजदूर पसीने से लथपथ जाने कितना मजबूर ।                   
दिन भर करता भारी से भारी काम दो रोटी खा ठंडा पानी पीकर करता आराम ।             
अपने शरीर से ज्यादा से ज्यादा करता काम फिर भी उसको मिलते नहीं इतने दाम. 
 कभी हमने सोचा जाना अगर यह ना होते तो हम कहां सोते.        
आलीशान घरों में रहते हैं इनके ही बलबूते.    
ना समाज में इज्जत ना उनमें पैसा ना शोहरत कोई तो इनके काम आये.                   
तीर्थ स्थलों में जाकर दुनिया भर का पैसा लोगों ने लुटाये।    
भगवान की मूर्ति के आगे लाखों का चढ़ाते.                
परंतु इन मजदूर  को इनकी पूरी मजदूरी भी नहीं दे पाते.          
ज्यादा से ज्यादा इनसे काम  लेते।              

काम के बीच में कोई पूछता भी नहीं इनको चाय पानी।               
हड्डी तोड़ मेहनत सिर्फ दो रोटी के लिए।
  सरकारी कर्मचारी तो बड़ा वेतन बढ़ाने के लिए हड़ताल पर हड़ताल करते हैं।     
यह मजदूर एक दिन भी घर बैठ जाते हैं।          

तो इनके बीवी बच्चे भूखे मरने जैसी नौबत आ जाती है।      
 इनको उस दिन की दिहाड़ी भी नहीं मिलती है
यह कैसा अन्याय है इनको भी जीने का पूरा हक है 
  #yqdidi इन लाइनों को पढ़कर आप  थोड़ा संवेदनशील हो जाएंगे और  सब चीज सरकार और देश के लिए नहीं छोड़ेंगे खुद भी एक अच्छे नागरिक होने का कर्तव्य निभाएंगे 
अब तक अपना कीमती समय देने के लिए और इन लाइनों को पढ़ने के लिए आपका धन्यवाद 🙏🙏🙏🙏🙏

दिन भर धूप में तपता मजदूर पसीने से लथपथ जाने कितना मजबूर ।   
                
दिन भर करता भारी से भारी काम दो रोटी खा ठंडा पानी पीकर करता आराम । 
              
अपने शरीर से ज्यादा से ज्यादा करता काम फिर भी उसको मिलते नहीं इतने दाम.
loader
Home
Explore
Events
Notification
Profile