Amjad Nigar

Amjad Nigar

बे हिसाब जिसको अपना करीबी समझा वो आशना भी आज छोड़ कर चला मुझको

  • Latest
  • Popular
  • Repost
  • Video

""

"मेरी आंखो को आंखो का किनारा कोन देगा समंदर को समंदर में साहारा कोन देगा मेरे चेहरे को चेहरा कब इनायत कर रहे हो तुम्हे मेरे सिवा चेहरा तुमहरा कोन देगा मोहोब्बत नीला मौसम बन के आजायेगी इक दिन भुलादि कितनियो को फिर साहारा कोन देगा मेरी आवाज में आवाज किसकी बोलती ह मेरे गीतों को गीतों का किनारा कोन देगा ©Amjad Nigar"

मेरी आंखो को आंखो का किनारा कोन देगा
समंदर को समंदर में साहारा कोन देगा

मेरे चेहरे को चेहरा कब इनायत कर रहे हो
तुम्हे मेरे सिवा चेहरा तुमहरा कोन देगा

मोहोब्बत नीला मौसम बन के आजायेगी इक दिन
भुलादि कितनियो को फिर साहारा कोन देगा

मेरी आवाज में आवाज किसकी बोलती ह
मेरे गीतों को गीतों का किनारा कोन देगा

©Amjad Nigar

#Drops

8 Love

""

"वो बहारों का क्या गया मौसम दर्द दिल में जगा गया मौसम छोटे बच्चे भी सहमे रहते ह अबके इतना डरा गया मौसम ©Amjad Nigar"

वो बहारों का क्या गया मौसम 
दर्द दिल में जगा गया मौसम

छोटे बच्चे भी सहमे रहते ह
अबके इतना डरा गया मौसम

©Amjad Nigar

#WalkingInWoods

6 Love

""

"मरती हुई जमीं को बचाना पड़ा मुझे बादल की तरह दस्त में आना पड़ा मुझे वो कर नही रहा था मेरी बात का यकीन फिर यूं हुवा के मर के दिखाना पड़ा मुझे उस बेवफा की याद दिलाता था बार बार कल आईने पे हाथ उठाना पड़ा मुझे ऐसे बिछड़ के उसने तो मर जाना था निगार उस की नज़र में खुद को गिराना पड़ा मुझे ©Amjad Nigar"

मरती हुई जमीं को बचाना पड़ा मुझे
बादल की तरह दस्त में आना पड़ा मुझे

वो कर नही रहा था मेरी बात का यकीन 
फिर यूं हुवा के मर के दिखाना पड़ा मुझे

उस बेवफा की याद दिलाता था बार बार
कल आईने पे हाथ उठाना पड़ा मुझे

ऐसे बिछड़ के उसने तो मर जाना था निगार
उस की नज़र में खुद को गिराना पड़ा मुझे

©Amjad Nigar

fir yun huva ke mr ke dikhana pda mujhe #Jaan #rp11music #write #L♥️ve #Ha #Ka #Jaana #wada

#reading

10 Love

""

"मैंने हर दोश की आंखों में उतर कर देखा ऐक धरती के ज़जीरों के सिवा कुछ भी ना था उनकी बेनूर मुरादों का गिला कोन करे अपनी किसमत में अंधेरो के सिवा कुछ भी ना था ©Amjad Nigar"

मैंने हर दोश की आंखों में उतर कर देखा
ऐक धरती के ज़जीरों के सिवा कुछ भी ना था

उनकी बेनूर मुरादों का गिला कोन करे
अपनी किसमत में अंधेरो के सिवा कुछ भी ना था

©Amjad Nigar

#Smile

9 Love

""

"प्यार दिल से निभायेंगे हम तुम भूल जाओ तो भी याद आयेंगे हम ऐसी शरारत करेंगे हम की ना चाहते हुवे भी तुम्हे याद आयेंगे हम ना जाने कोनसी डोर ह जो तुझ संग जुड़ी ह दूर जाये तो टूटने का डर ह पास आये तो उलझने का डर ह क्यों ली थी मैने तुमसे मोहोब्बत कर्ज़ में जीस्त (जिंदगी) जिसकी हर रोज़ जान ले लेती ह कभी इतना मत मुस्कुराना के नज़र लग जाये जमाने की क्योके हर आंख मेरी तरह मोहोबत की नही मोहोब्बत की नही होती मोहोब्बत की नही होती ©Amjad Nigar"

प्यार दिल से निभायेंगे हम 
तुम भूल जाओ तो भी याद आयेंगे हम
ऐसी शरारत करेंगे हम की 
ना चाहते हुवे भी तुम्हे याद आयेंगे हम
ना जाने कोनसी डोर ह जो तुझ संग जुड़ी ह
दूर जाये तो टूटने का डर ह 
पास आये तो उलझने का डर ह
क्यों ली थी मैने तुमसे मोहोब्बत कर्ज़ में
जीस्त (जिंदगी) जिसकी हर रोज़ जान ले लेती ह
कभी इतना मत मुस्कुराना के नज़र
लग जाये जमाने की 
क्योके हर आंख मेरी तरह मोहोबत की नही 
मोहोब्बत की नही होती मोहोब्बत की नही होती

©Amjad Nigar

#Drops

13 Love