Rupa Ki Diary

Rupa Ki Diary

💞💞इतना भी सस्ता नहीं मेरा गुस्सा... 💗💗 जो हर किसी पर आ जाये... 💕💕वफ़ा भी अपनों से करते हैं...💝💝 और खफ़ा भी सिर्फ़ अपनों से होते हैं..

  • Latest
  • Popular
  • Repost
  • Video

गले लग कर जब मैं तुम्हारी शिकायत करूंगी मेरी आँखों में आँसू नहीं, बस कुछ “नमी” है.. वजह तू नहीं, तेरी ये “कमी” है.. ©Rupa Ki Diary

#शायरी #treanding #L♥️ve #writer #लव  गले लग कर जब मैं तुम्हारी शिकायत करूंगी

मेरी आँखों में आँसू नहीं, बस कुछ “नमी” है.. वजह तू नहीं, तेरी ये “कमी” है..

©Rupa Ki Diary

*उम्मीद कभी हमें* *छोड़ कर नहीं जाती *जल्दबाजी में हम ही* *उसे छोड़ देते हैं . ©Rupa Ki Diary

#उम्मीद #विचार #writer #Shayar #Hindi  *उम्मीद कभी हमें*
*छोड़ कर नहीं जाती 

*जल्दबाजी में हम ही*
*उसे छोड़ देते हैं .

©Rupa Ki Diary

तेरी इस महरबानी का शुक्रिया साथी गमों से रिश्ता मेरा … तू जोड़ गया ख्वाहिश थी मंजिल तक साथ चलने की तू तो बीच रास्ते में ही मुझे छोड़ गया ©Rupa Ki Diary

#ज़िन्दगी #Trending #shayri #rashte #ahsas  तेरी इस महरबानी का शुक्रिया साथी
गमों से रिश्ता मेरा … तू जोड़ गया
ख्वाहिश थी मंजिल तक साथ चलने की
तू तो बीच रास्ते में ही मुझे छोड़ गया

©Rupa Ki Diary

आज फुर्सत मिली तो ख्याल आया, जो दिल में था वो तो ना पाया। ज़िन्दगी यूँ ही हो गई बसर, जिसे चाहा उससे कहना ना आया। टूट ही गया वो हकीकत में, ख्वाबों में था जो आशियां बनाया। चलते रहे फ़र्ज़ औऱ कर्ज़ के दरमियां, क्यों खुलकर हमें जीना ना आया। करते रहे हम औरो की कही, अपनी बात को रखना ना आया। अब किससे कहें हम दास्तां अपनी अपने हालात पर बहुत रोना आया। ©Rupa Ki Diary

#ज़िन्दगी #nojohindi #treanding #writer #status  आज फुर्सत मिली तो ख्याल आया,
जो दिल में था वो तो  ना पाया।

 ज़िन्दगी यूँ ही हो गई बसर,
जिसे चाहा उससे कहना ना आया।

टूट ही गया वो हकीकत में,
ख्वाबों में था जो आशियां बनाया।

चलते रहे फ़र्ज़ औऱ कर्ज़ के दरमियां,
क्यों खुलकर हमें जीना ना आया।

करते रहे हम औरो की कही,
अपनी बात को रखना ना आया।

अब किससे कहें हम दास्तां अपनी
अपने हालात पर बहुत रोना आया।

©Rupa Ki Diary

सख़्त हाथों से भी छूट जाती हैं कभी उंगलियाँ रिश्ते ज़ोर से नहीं तमीज़ से थामे जाते हैं ©Rupa Ki Diary

#शायरी #treanding #rishte #no  सख़्त हाथों से भी  
छूट जाती हैं कभी  उंगलियाँ
रिश्ते ज़ोर से नहीं  
तमीज़ से  थामे जाते हैं

©Rupa Ki Diary

कछुए की तरह रफ्तार है अपनी, और वक्त है जो खरगोश हुआ जाता है. ©Rupa Ki Diary

#विचार #shayri #Hindi #think  कछुए की तरह रफ्तार है अपनी,

और  वक्त है जो खरगोश हुआ जाता है.

©Rupa Ki Diary

#Nojoto #shayri #Hindi #Poetry #think

11 Love

Trending Topic