Omi Sharma

Omi Sharma

  • Popular
  • Latest
  • Repost
  • Video

""

"गुलिस्ताँ है तु ,महका कर । बर्क़ है तु , चमका कर । बेचैन करती है तेरे होठों की चुप्पी । बुलबुल है तु , चहका कर ।। ओमी"

गुलिस्ताँ  है तु ,महका कर ।
 
बर्क़  है  तु , चमका कर ।

बेचैन करती  है  तेरे होठों  की चुप्पी  ।

 बुलबुल   है  तु  , चहका   कर ।।

ओमी

#Happy_holi

233 Love

""

"न उठकर जा यूँ पहलू से, नज़रों की प्यास बाकी है । तुमसे कहने को अभी बहुत सी बात बाकि है ।। गिरे रहने दे जुल्फों को यूँ ही अपने सानो पर । बैठकर इनकी आगोश में, अभी आँशू बहाना बाकि.है ।। कारवाँ कई जो ख़्वाबों के मेरी पलकों से होकर गुजरे हैं । उनको हकिकत में बदलना अभी और बाकि है ।। तुझे पाने की कोशिश में जो मेरे दिल पर गुजरी है । वो दिल-ए-बेकरारी का किस्सा अभी सुनाना बाकि है ।। रखा है जख्म-ए-दिल लाकर मैंने तेरे कदमों पर । उस पर तेरे हाथों का अभी मरहम लगाना बाकि है ।। इल्म नहीं उसे 'ओमी' तेरे मेराज-ए-इश्क का । उसे अपनी मोहब्बत का अभी एहसास दिलाना बाकि है ।। ओमी"

न उठकर जा यूँ पहलू से, नज़रों की प्यास बाकी है ।
तुमसे कहने को अभी बहुत सी बात बाकि है ।।

गिरे रहने दे जुल्फों को यूँ ही अपने सानो पर ।
बैठकर इनकी आगोश में, अभी आँशू बहाना बाकि.है ।।

कारवाँ कई जो ख़्वाबों के मेरी पलकों से होकर गुजरे हैं ।
उनको हकिकत में बदलना अभी और बाकि है ।।

तुझे पाने की कोशिश में जो मेरे दिल पर गुजरी है ।
वो दिल-ए-बेकरारी का किस्सा अभी सुनाना बाकि है ।।

रखा है जख्म-ए-दिल लाकर  मैंने तेरे कदमों पर ।
उस पर तेरे हाथों का अभी  मरहम लगाना बाकि है ।।

इल्म नहीं उसे 'ओमी' तेरे मेराज-ए-इश्क का ।
उसे अपनी मोहब्बत का अभी एहसास दिलाना बाकि है ।।

ओमी

#No_Smoking_Day

209 Love

""

"तेरी इक नज़र ने कई ख़्वाब दे डाले । जो न कह सकी जुबाँ, कलम ने वो राज़ लिख डाले । मैं सोया नहीं वर्षों जो कभी चैन से रातभर । मेरे बेचैनियों के किस्से , चादर की सलवटों ने कह डाले ।। ओमी"

तेरी इक  नज़र  ने कई ख़्वाब दे डाले ।

जो न कह सकी जुबाँ, कलम ने वो राज़ लिख डाले । 

मैं सोया नहीं वर्षों जो कभी  चैन से रातभर ।

मेरे बेचैनियों के किस्से , चादर की सलवटों ने कह डाले ।।

ओमी

#sapne

194 Love

""

"मैं इश्क के खुमार में , बहका सा इक जाम हूँ । फितरत हवा सी है मेरी , मैं थोड़ा बेलगाम हूँ ।। ओमी"

मैं इश्क के खुमार में  ,

बहका सा  इक  जाम हूँ ।

 फितरत हवा सी है मेरी ,

मैं थोड़ा बेलगाम हूँ ।।

ओमी

#Happy_promise_day

189 Love

""

"आँन कर के मोबाइल , मैं तुझको सर्च करता हूँ , देख डी.पी. तेरी दिनभर , मैं डाटा खर्च करता हूँ ।। ओमी"

आँन कर के मोबाइल  ,

मैं तुझको सर्च करता हूँ  ,

देख डी.पी. तेरी दिनभर  ,

मैं डाटा खर्च करता हूँ ।।

ओमी

#Umeed

184 Love