tags

Best islam Shayari, Status, Quotes, Stories, Poem

Find the Best islam Shayari, Status, Quotes from top creators only on Nojoto App. Also find trending photos & videos about dukhtaran-e-islam academy, dukhtaran e islam, pyar a islam.

  • 262 Followers
  • 718 Stories
  • Popular
  • Latest
  • Video

"सूरा फ़ातिहा"

सूरा फ़ातिहा

प्यारी भतीजी आयशा की ख़ूबसूरत आवाज़ में सूरा अल फ़ातिहा और सोने की दुआ।#arzhai #nojotoislamic #islamic #Nojoto #NojotoFilms #Beautiful #Trending #islam @Fatma Khan @ISHQ PARAST💖 @Mumtaz moulai fans @Sajjid Tanha @Mohd Hashim Sheikh

172 Love
5.3K Views
1 Share

""

"QURAN KO SIR KA TAAJ AUR .. NAMAZ KO APNA HUMSAFAR BANALO.. KHUDA KO APNI MOHABBAT AUR.. QALMA KO ROOH KI AWAAZ BANALO !! #NojotoQuote"

QURAN KO SIR KA TAAJ AUR ..
NAMAZ KO APNA HUMSAFAR BANALO..
KHUDA KO APNI MOHABBAT AUR..
QALMA KO ROOH KI AWAAZ BANALO !!
 #NojotoQuote

JUMMA MUBARAK 💫
#Love #islam #happyfriday

111 Love

""

"The story is, भूल चुकी है उम्मत नबी के अर्कान सरे| यूंही नहीं हुए हैं ये बदनाम सारे|| दीवाना दफ्तर दफ्तर दौरे कामयाबी की चाह में| क्या कान बंद कर के सुनते हैं ये अजान सरे || Bhool Chuki Hai Ummat Nabi Ke Arkan Sare Younhi Nhi Huye Hain Ye Badnam Sare Diwana Daftar Daftar Daure Kamyabi Ki Chah Me Kya Kan Band Kr Ke Sunte Hain Ye Ajan Sare"

The story is, भूल चुकी है उम्मत नबी के अर्कान सरे|
यूंही नहीं हुए हैं ये बदनाम सारे||

दीवाना दफ्तर दफ्तर दौरे कामयाबी की चाह में|
क्या कान बंद कर के सुनते हैं ये अजान सरे ||

Bhool Chuki Hai Ummat Nabi Ke Arkan Sare
Younhi Nhi Huye Hain Ye Badnam Sare

Diwana Daftar Daftar Daure Kamyabi Ki Chah Me
Kya Kan Band Kr Ke Sunte Hain Ye Ajan Sare

भूल चुकी है उम्मत नबी के अर्कान सरे|
यूंही नहीं हुए हैं ये बदनाम सारे||

दीवाना दफ्तर दफ्तर दौरे कामयाबी की चाह में|
क्या कान बंद कर के सुनते हैं ये अजान सरे ||

Bhool Chuki Hai Ummat Nabi Ke Arkan Sare
Younhi Nhi Huye Hain Ye Badnam Sare

106 Love

""

"जुल्म कमजोर पर जरा शर्म कर लो| खुदारा अपनी जान पर रहम कर लो|| गिरफ्तार है गफलत में कौम जबतक| अपने शहंशाही का भरम कर लो|| Julm Kamjor Par Jara Sharam Kar Lo Khudara Apni Jan Par Raham Kar Lo Giraftar Hai Gaflat Me Kaum Jabtak Apne Shahanshahi Ka Bharam Kar Lo"

जुल्म कमजोर पर जरा शर्म कर लो|

खुदारा अपनी जान पर रहम कर लो||

गिरफ्तार है गफलत में कौम जबतक|

अपने शहंशाही का भरम कर लो||

Julm Kamjor Par Jara Sharam Kar Lo

Khudara Apni Jan Par Raham Kar Lo

Giraftar Hai Gaflat Me Kaum Jabtak

Apne Shahanshahi Ka Bharam Kar Lo

Adnan Rabbani's Shayari • जुल्म कमजोर पर जरा शर्म कर लो|

खुदारा अपनी जान पर रहम कर लो||

गिरफ्तार है गफलत में कौम जबतक|

अपने शहंशाही का भरम कर लो||

84 Love

""

"भगवान के नाम पर उसे लगातार पीटा जा रहा था। जब "अल्लाह हू अकबर" बोलकर बम फोड़कर अनेक मासूम लोगों की जान लेने वालों को "मुस्लिम" नहीं माना जा सकता तो मैं "जय श्री राम" बोलकर एक व्यक्ति को मारने वालों को "हिन्दू" कैसे मान लूँ | आतंक फैलाने वालों का कोई धर्म नहीं होता |"

भगवान के नाम पर उसे लगातार पीटा जा रहा था। जब "अल्लाह हू अकबर" बोलकर बम फोड़कर अनेक मासूम लोगों की जान लेने वालों को "मुस्लिम" नहीं माना जा सकता
तो
मैं "जय श्री राम" बोलकर एक व्यक्ति को मारने वालों को "हिन्दू" कैसे मान लूँ |

आतंक फैलाने 
वालों का
 कोई धर्म 
नहीं होता |

#terrorism
#Hindu
#Muslim
#islam
#Religion
#हिंदू
#हिन्दू
#मुस्लिम

74 Love